Saharsh Swikara Hai Class 12 MCQ : सहर्ष स्वीकारा है

Saharsh Swikara Hai Class 12 MCQ ,

Saharsh Swikara Hai Class 12 MCQ Hindi Aroh 2 Chapter 5 , सहर्ष स्वीकारा है MCQ ,

Saharsh Swikara Hai Class 12 MCQ

सहर्ष स्वीकारा है MCQ

Note- “सहर्ष स्वीकारा है ” कविता का भावार्थ पढ़ने के लिए Link में Click करें – Next Page

सहर्ष स्वीकारा है  पाठ के प्रश्न उत्तर पढ़ने के लिए Link में Click करें – Next Page

सहर्ष स्वीकारा है ” के भावार्थ को हमारे YouTube channel  में देखने के लिए इस Link में Click करें। YouTube channel link – ( Padhai Ki Batein / पढाई की बातें)

  1. “सहर्ष स्वीकारा है” कविता के कवि कौन हैं – गजानन माधव मुक्तिबोध
  2. “सहर्ष स्वीकारा है” , कविता किस काव्य – संग्रह से ली गई है – भूरी – भूरी खाक धूल
  3. गजानन माधव मुक्तिबोध का जन्म कब हुआ था – 13 नवंबर 1917
  4. गजानन माधव मुक्तिबोध का जन्म कहां हुआ था – ग्वालियर (मध्य प्रदेश)
  5. गजानन माधव मुक्तिबोध का निधन कब हुआ था – 11 सितंबर 1964
  6. गजानन मुक्तिबोध का निधन कहां हुआ था – नई दिल्ली
  7. सन 1962 में मध्य प्रदेश सरकार ने कवि की कौन सी किताब को प्रतिबंधित कर दिया था – भारतीय इतिहास और संस्कृति
  8. “सहर्ष स्वीकारा है” , कविता की शैली कैसी है-  संबोधन शैली
  9. कवि की जिंदगी में जो कुछ भी है , उसे उन्होंने कैसे स्वीकारा है – सहर्ष यानि खुशी – खुशी
  10. कवि अपने जीवन के संघर्ष , अवसाद , आशा – निराशा और सुख – दुख को सहर्ष स्वीकार करते है क्यों ? – अपने प्रिय की प्रेरणा के कारण
  11. कवि के अनुसार “जो कुछ भी मेरा है , वह तुम्हें … है”  –  प्यारा
  12. “वह तुम्हें प्यारा है ” ,पंक्ति में “तुम” कौन हैं –  कवि की प्रेयसी
  13. कवि ने गरीबी को कैसा बताया है – गरबीली (गर्व से भरी)
  14. कविता के अनुसार , कवि को अपनी किस चीज पर गर्व है – गरीबी पर
  15. “गरबीली – गरीबी” में कौन सा अलंकार है – अनुप्रास अलंकार
  16. कवि अपनी गरीबी को “गरबीली” क्यों मानता है – क्योंकि वह उसके प्रिय को स्वीकार है
  17. गरीबी और संघर्षमय जीवन से , कवि को क्या उपहार मिला  – गंभीर अनुभव , विचारों में सुंदरता और व्यक्तित्व में दृढ़ता।
  18. “जो कुछ भी जागृत है अपलक है , संवेदन तुम्हारा है ” ,पंक्ति में किसके संवेदन से सब कुछ जागृत है – कवि के प्रिय के
  19. “पल-पल” में कौन सा अलंकार है – पुनरुक्ति प्रकाश अलंकार
  20. “भीतर की सरिता” से कवि का क्या तात्पर्य है –  ह्रदय की सरिता या दिल की कोमल भावनाएं
  21. “अभिनव” का क्या अर्थ हैं – नया
  22. “विचार – वैभव” और “भीतर की सरिता” में कौन सा अलंकार है – रूपक अलंकार
  23. कवि के भीतर क्या है – मीठे पानी का सोता (झरना)
  24. मीठे पानी का झरना किसके हृदय में है – कवि के
  25. अपने दिल की तुलना कवि किससे करते हैं – झरने से
  26. “दिल में क्या झरना है ?” में कौन सा अलंकार है –  प्रश्न अलंकार
  27. कवि के हृदय के झरने की क्या विशेषता है – (1) जितना भी उड़ेलता है , उतना ही भर- भर जाता है (2) वह झरना , मीठे पानी का है।
  28. “जाने क्या रिश्ता है , जाने क्या नाता है” में कौन सा अलंकार है –  संदेह अलंकार
  29. “जाने क्या रिश्ता है , जाने क्या नाता है” , पंक्ति में कवि क्या कहना चाहते हैं – अपने प्रिय से अपने संबंधों को कोई नाम नहीं देना चाहते हैं।
  30. “जितना भी उड़ेलता हूँ ,  भर – भर फिर आता है ” में कौन सा अलंकार है – विरोधाभास अलंकार है।
  31.  “मुस्काता चाँद ज्यों धरती पर रात – भर” में कौन सा अलंकार है – उत्प्रेक्षा अलंकार
  32. कवि का संपूर्ण व्यक्तित्व किसके प्रभाव से प्रभावित है –  उनके प्रिय के
  33. “सहर्ष स्वीकारा है” , कविता में कवि ने अपनी प्रियतमा के चेहरे की तुलना किससे की है – चांद से
  34. “मुस्कुराता चांद” किसके लिए कहा है – प्रियसी के खिलते चेहरे के लिए
  35. अपने प्रिय को भूलने के दंड की तुलना कवि किससे करता है – दक्षिण ध्रुवी अंधकार अमावस्या से
  36. कवि ने किस स्थान के अंधकार की तुलना ,  आमावस्या के अंधकार से की हैं – दक्षिण ध्रुवी
  37. कवि ने अंधकार को कैसा कहा है – दक्षिण ध्रुवी
  38. “दक्षिण धुवी अंधकार आमावस्या” ,  इस पंक्ति में संबंध है – विशेषण – विशेष्य का
  39. कवि से अब क्या नहीं सहा जाता – रमणीय उजाला
  40. “सहा नहीं जाता है , नहीं सहा जाता है” , पंक्ति के अनुसार कवि से अब क्या नहीं सहा जाता –  प्रेम का रमणीय उजाला या प्रिय से अधिक निकटता
  41. कवि कैसा दंड चाहते है – पाताली अंधेरी गुफाओं में और धुएं के बादलों में खोने का दंड
  42. कविता में कवि “दक्षिण ध्रुवी अंधकार – अमावस्या” को कहाँ – कहाँ पा लेना चाहता है – शरीर पर , अंतर मन में , चेहरे पर
  43. दक्षिण ध्रुवी अंधकार – अमावस्या में कवि क्या करना चाहता है – नहाना
  44. “परिवेष्टित” शब्द का क्या अर्थ है – चारों ओर से घिरा हुआ
  45. “आच्छादित” शब्द का क्या अर्थ है – पूरी तरह से ढका हुआ
  46. “पाताली अँधेरे की गुहाओं में” , यहां “गुहा” शब्द का अर्थ क्या है – गुफा
  47. धुए के बादलों में खो जाने का क्या आशय है –  विस्मृति में चले जाना
  48. “ममता के बादल” कैसे हैं – प्रेम भरे
  49. “ममता के बादल” ,  में कौन सा अलंकार है – रूपक अलंकार
  50. “ममता के बादल” , कैसी भावना की ओर संकेत करते है – अपनत्व की भावना
  51. कविता के अनुसार ममता के बादल की कोमलता कहां पिराती है – कवि के भीतर
  52. “पिराना” का क्या अर्थ है – दर्द
  53. “बहलाती – सहलाती आत्मीयता” कवि को क्या नहीं होती है – बर्दाश्त
  54. “बहलाती सहलाती आत्मीयता” ,  कैसी आत्मीयता है – सांत्वना देने वाली
  55. हर समय अपने प्रिय के निकट रहने के कारण , कवि की आत्मा कैसी हो गई है – कमजोर और अक्षम
  56. हर समय साथ रहने के कारण अब कवि को , प्रिय की आत्मीयता कैसी लगने लगी है –  बहलाने – सहलाने वाली
  57. कवि क्या सहन नहीं कर पा रहा है  – प्रिय की आत्मीयता और उसके निरंतर संरक्षण को
  58. निरंतर संरक्षण और अत्यधिक आत्मीयता , कवि के व्यक्तित्व पर क्या प्रभाव डालती है – उसे आंतरिक रुप से कमजोर बनाती है
  59. कवि अपने प्रिय के प्रेम के प्रभाव से बाहर निकल कर क्या करना चाहते हैं – अपना खुद का अस्तित्व खोजना चाहते हैं।
  60. कवि किससे भयभीत है – अपने भविष्य से
  61. कवि के व्याकुल हृदय को कौन डराती है – भविष्य की चिंता
  62. कवि स्वयं के लिए किससे दंड पाना चाहता है- अपने अनजान प्रिय से
  63. कवि दंड क्यों पाना चाहता है – अपने प्रिय के मोह से मुक्ति पाने के लिए
  64. कवि कहां लापता होना चाहता है – अंधेरी गुफाओं में
  65. “विवर” का क्या अर्थ हैं – बिल
  66. कवि अंधकार का दंड भोगने के लिए कहां जाना चाहता है – पाताली अँधेरे की गुफा के बिलों में
  67. पाताली गुफाओं में भी कवि को किसका सहारा मिलता है  – अपने प्रिय का
  68. कवि अपने अस्तित्व का कारण किसे मानता है – अपने प्रिय को
  69. कवि कहां लापता हो जाना चाहता है – धुंए के बादलों में
  70. “लापता कि वहाँ भी तो तुम्हारा ही सहारा है ” में कौन सा अलंकार हैं – विरोधाभास अलंकार

Saharsh Swikara Hai Class 12 MCQ

सहर्ष स्वीकारा है” के भावार्थ को हमारे YouTube channel  में देखने के लिए इस Link में Click करें। YouTube channel link – ( Padhai Ki Batein / पढाई की बातें)

Note – Class 8th , 9th , 10th , 11th , 12th के हिन्दी विषय के सभी Chapters से संबंधित videos हमारे YouTube channel ( Padhai Ki Batein / पढाई की बातें)  पर भी उपलब्ध हैं। कृपया एक बार अवश्य हमारे YouTube channel पर visit करें । सहयोग के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यबाद।

You are most welcome to share your comments . If you like this post . Then please share it . Thanks for visiting.

यह भी पढ़ें……

कक्षा 12 हिन्दी वितान भाग 2 

सिल्वर वेडिंग का सारांश

सिल्वर वेडिंग के प्रश्न उत्तर

सिल्वर वेडिंग के MCQ

जूझ का सारांश

जूझ के प्रश्न उत्तर

जूझ के MCQ 

अतीत में दबे पाँव सारांश

अतीत में दबे पाँव प्रश्न उत्तर

अतीत में दबे पाँव प्रश्न उत्तर (MCQ) 

डायरी के पन्ने का सारांश

डायरी के पन्ने के प्रश्न उत्तर

डायरी के पन्ने MCQ

कक्षा 12 हिन्दी आरोह भाग 2 

काव्य खंड 

आत्मपरिचय का भावार्थ

आत्म परिचय के MCQ 

दिन जल्दी-जल्दी ढलता हैं का भावार्थ

दिन जल्दी-जल्दी ढलता हैं के MCQ 

आत्म – परिचय , एक गीत के प्रश्न उत्तर

पतंग का भावार्थ

पतंग के प्रश्न उत्तर

बात सीधी थी पर कविता का भावार्थ

बात सीधी थी पर के MCQ 

कविता के बहाने कविता का भावार्थ

कविता के बहाने और बात सीधी थी मगर के प्रश्न उत्तर

कविता के बहाने  के MCQ 

कैमरे में बंद अपाहिज का भावार्थ

कैमरे में बंद अपाहिज के प्रश्न उत्तर

कैमरे में बंद अपाहिज के MCQ

सहर्ष स्वीकारा है का भावार्थ

सहर्ष स्वीकारा है के प्रश्न उत्तर

उषा कविता का भावार्थ 

उषा कविता के प्रश्न उत्तर

उषा कविता के MCQ 

कवितावली का भावार्थ

कवितावली के प्रश्न उत्तर

लक्ष्मण मूर्च्छा और राम का विलाप का भावार्थ

लक्ष्मण मूर्च्छा और राम का विलाप के प्रश्न उत्तर

कवितावली और लक्ष्मण मूर्च्छा और राम का विलाप के MCQ 

रुबाइयों का भावार्थ

रुबाइयों के प्रश्न उत्तर

गजल का भावार्थ 

रुबाइयों और गजल के MCQ 

गद्द्य खंड (आरोह भाग 2) 

भक्तिन का सारांश

भक्तिन पाठ के प्रश्न उत्तर

बाजार दर्शन का सारांश 

बाजार दर्शन के प्रश्न उत्तर

काले मेघा पानी दे का सारांश

काले मेघा पानी दे के प्रश्न उत्तर

पहलवान की ढोलक का सारांश 

पहलवान की ढोलक पाठ के प्रश्न उत्तर

पहलवान की ढोलक पाठ के MCQ 

चार्ली चैप्लिन यानी हम सब का सारांश 

चार्ली चैप्लिन यानि हम सब के प्रश्न उत्तर

नमक पाठ का सारांश 

नमक पाठ के प्रश्न उत्तर

नमक पाठ के MCQ 

श्रम विभाजन और जाति प्रथा का सारांश

श्रम विभाजन और जाति प्रथा के प्रश्न उत्तर

श्रम विभाजन और जाति प्रथा के MCQ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *