Balgobin Bhagat Class 10 MCQ : बालगोबिन भगत MCQ

Balgobin Bhagat Class 10 MCQ ,

Balgobin Bhagat Class 10 MCQ Hindi Kshitij Chapter 11  , बालगोबिन भगत कक्षा 10 MCQ

Balgobin Bhagat Class 10 MCQ

बालगोबिन भगत MCQ

  1. Note – बालगोबिन भगत पाठ का सारांश पढ़ने के लिए Click करें – Next Page
  2. बालगोबिन भगत पाठ के प्रश्नों के उत्तर पढ़ने के लिए Click करें – Next Page 
  3. “बालगोबिन भगत” पाठ के सारांश को हमारे YouTube channel में देखने के लिए इस Link में Click कीजिए । – (Padhai Ki Batein /पढाई की बातें)

Balgobin Bhagat Class 10 MCQ Questions 

  1. बालगोबिन भगत पाठ के लेखक कौन है – रामवृक्ष बेनीपुरी 
  2. बालगोबिन भगत पाठ कौन सी विधा पर आधारित है – रेखाचित्र विधा
  3. बालगोबिन भगत की आयु लगभग कितनी थी –  60 वर्ष
  4. बालगोबिन भगत कैसे व्यक्ति थे – मँझले कद के गोरे चिट्टे व्यक्ति थे।
  5. बालगोबिन भगत के बाल कैसे थे – सफेद
  6. बालगोबिन भगत गले में कौन सी माला पहनते थे – तुलसी की जड़ों से बनी हुई माला
  7. बालगोबिन भगत के मस्तक पर हमेशा क्या लगा रहता था – रामानंदी चंदन का टीका
  8. बालगोबिन भगत किस कारण साधु कहलाते थे – शुद्ध आचरण  , सच्चा साधक , निर्मोही व संयमी होने के कारण
  9. बालगोबिन भगत कैसी टोपी पहनते थे – कबीरपंथियों के जैसी कनफटी टोपी।
  10. बालगोबिन भगत किनके आदर्शों पर चलते थे – कबीरदास जी के
  11. बालगोबिन भगत किस संप्रदाय को मानते थे – कबीरपंथी संप्रदाय
  12. भगतजी  “कबीरदासजी” को क्या मानते थे – साहब
  13. बालगोबिन भगत सब चीजों को किसकी संपत्ति मानते थे – साहब (कबीरदासजी) की
  14. बालगोबिन भगत अपनी फसल को पहले कहां ले जाते थे – कबीरपंथी मठ में
  15. भगतजी की किस विशेषता पर लेखक अत्यधिक फ़िदा थे – उनके मधुर गाने
  16. एक सच्चे साधु की असली पहचान किससे होती है – उसके चरित्र , आचार – विचार व व्यवहार से
  17. लेखक के अनुसार , बालगोबिन भगत का लोगों के प्रति व्यवहार कैसा था – वो दो टूक बात कहते थे , न झूठ बोलते और न खामखा किसी से झगड़ा मोल लेते थे , बिना पूछे किसी की चीज को व्यवहार में भी नही लाते थे।
  18. भगतजी की कबीरदास जी में अपार श्रद्धा होने की क्या वजह थी  – कबीर एक निर्भीक संत थे जिन्होनें सामाजिक कुरीतियों , बाह्य आडंबरों और जाति प्रथा का घोर विरोध किया।
  19. बालगोबिन भगत किसके पदों को गाया करते थे – कबीर के
  20. अपने साहब (कबीर) के प्रति बालगोबिन भगत कैसे श्रद्धा दर्शाते थे – उनके गीतों को गाकर व उनके आदर्शों पर चलकर
  21. भगतजी आत्मा और परमात्मा के बीच कैसा संबंध मानते थे – प्रेमी – प्रेमिका का
  22. बालगोबिन भगत के गांव के लोगों का मुख्य धंधा क्या था – खेती-बाड़ी
  23. लेखक ने “रोपड़ी” किसे कहा है – धान की रोपाई को
  24. भगतजी अपने खेतों में किस चीज की खेती करते थे – धान की
  25. लेखक ने भगतजी के संगीत को क्या कहा – जादू
  26. बालगोबिन भगत के संगीत को लेखक ने जादू क्यों कहा – क्योंकि भगतजी का संगीत हर वर्ग के लोगों पर समान रूप से असर करता था।
  27. जब सारा संसार सोया रहता था तो उस समय कौन जाग रहा होता था – बालगोबिन भगत का संगीत
  28. भगतजी के गीतों में कौन सा भाव रहता था  – ईश्वर भक्ति का भाव
  29. बालगोबिन भगत सुबह – शाम क्या गाते थे – भजन
  30. “साँझा” का क्या अर्थ है – शाम को गाए जाने वाले गीत / भजन
  31. लेखक ने “लोही” किसे कहा है-  प्रातः काल की लालिमा को
  32. भगतजी के गीतों की क्या विशेषता थी – भगत जी के गीतों में ईश्वर के प्रति आस्था और प्रेम छलकता था जिन्हें सुनकर भटके हुए लोग भी सदमार्ग पर चलने लगते थे।
  33. “तेरी गठरी में लागा चोर , मुसाफिर जाग जरा” ,  इस पंक्ति में “मुसाफिर” किसे कहा गया है – मनुष्य को
  34. कार्तिक मास आने पर भगत क्या करने लगते थे – प्रभातफेरियों
  35. बालगोबिन भगत की प्रभातिया कब तक चलती थी – फागुन मास तक
  36. भगतजी गाना गाते समय क्या बजाया करते थे – खंजड़ी
  37. भादो की रातें कैसी होती है – काली अंधेरी
  38. गांव का सामाजिक व सांस्कृतिक परिवेश , आषाढ़ चढ़ते ही उल्लास से क्यों भर जाता था – तपती गर्मी के बाद इस माह में वर्षा ऋतु का आगमन होता हैं। इसी वजह से लोग अपने खेतों में धान की रोपाई शुरू कर देते थे।
  39. बालगोबिन भगत का संगीत , खेत में काम करने वाले लोगों पर कैसे असर करता था – जादू की तरह
  40. बालगोबिन भगत के गीतों को सुनकर वहां उपस्थित सभी लोग क्या करते थे – झूम उठते थे।
  41. बालगोबिन भगत किन्हें “निगरानी और मोहब्बत” के ज्यादा हकदार मानते थे – कमजोर और असहाय व्यक्तियों को
  42. भगतजी के कितने बच्चे थे  – एक
  43. भगतजी अपने बेटे का खास ख्याल क्यों रखते थे – क्योंकि वह मानसिक रूप से कमजोर , सुस्त व बोदा था
  44. बालगोबिन भगत को किसने दुनियादारी से मुक्त कर दिया – उनकी पुत्रवधू ने
  45. भगतजी की संगीत साधना का चरमोत्कर्ष कब देखा गया – उनके बेटे की मृत्यु के दिन
  46. भगतजी ने अपने पुत्र की मृत्यु पर , बहू से रोने के स्थान पर उत्सव मनाने के लिए क्यों कहा – क्योंकि भगत जी इसे मृत्यु के बजाय आत्मा का परमात्मा का मिलन मानते थे। इसीलिए वो कहते थे कि यह दुख का नहीं बल्कि हर्ष का विषय है।
  47. बेटे की मृत्यु के पश्चात बालगोबिन भगत की आखिरी दलील क्या थी – पतोहू का पुनर्विवाह
  48. बेटे के मरने के बाद , भगत जी अपनी बहू की दूसरी शादी क्यों करवाना चाहते थे – उसके सुखद भविष्य के लिए
  49. पतोहू को मायके भेजते समय , बालगोबिन भगत ने उसके भाई को क्या आदेश दिया – उसकी दूसरी शादी करने का
  50. अपने मायके नहीं जाने की जिद पर अड़ी बहू को उसके घर भेजने के लिए भगतजी ने कौन सी दलील दी थी – अब खुद घर छोड़ने की
  51. भगतजी की बहू उन्हें छोड़कर क्यों नहीं जाना चाहती थी –  भगतजी की चिंता के कारण
  52. बेटे की मृत्यु के बाद बालगोबिन भगत अपनी बहू से क्या अपेक्षा रखते थे – वो दूसरा विवाह कर ले
  53. भगतजी द्वारा अपनी पुत्रबाधू से बेटे की चिता को मुखाग्नि दिलाना क्या सिद्ध करता है – वो कबीर के आदर्शों पर चलकर समाज में व्याप्त रूढ़ीवादी परंपराओं को तोड़ना चाहते थे।
  54.  भगतजी प्रतिवर्ष गंगा स्नान के लिए क्यों जाते थे – संत समागम के लिए
  55. बालगोबिन भगत प्रत्येक वर्ष किस नदी पर स्नान करने जाया करते थे – गंगा
  56. बालगोबिन भगत के घर से गंगा नदी लगभग कितनी कोस की दूरी में थी – 30 कोस
  57. बालगोबिन भगत सुबह उठकर जिस नदी पर स्नान करने जाते थे। वह नदी गांव से कितनी दूरी पर थी – 2 मील
  58. बालगोबिन भगत की मृत्यु का क्या कारण था – उच्च रक्तचाप या दिल का दौरा
  59. जीवन के अंतिम सांस में लेखक को भगतजी का गीत कैसा लगा – जैसे वीणा का तार टूट गया हो
  60. बालगोबिन भगत का जीवन गौरवशाली था। स्पष्ट कीजिए – वो अपने जीवन के अंत समय तक भगवान की भक्ति में लीन रहे , उन्होंने अपनी दिनचर्या का नियमित व अनुशाशन से पालन किया , उनका संपूर्ण जीवन सत्य कर्मों में लगा रहा।
  61. बालगोबिन भगत सामाजिक परम्पराओं को नहीं मानते थे। यह बात उनके किन कार्यों से झलकती हैं  – वो गृहस्थ होते हुए भी साधु थे , वो बेटे की मृत्यु पर भी विचलित नहीं थे , उन्होंने अपने बेटे को मुखाग्नि अपनी बहू से दिलवाई।
  62. भगतजी ने लीक से हटकर सबसे बड़ा क्या कार्य किया – उन्होंने अपनी पुत्रबधू से अपने बेटे की चिता को मुखाग्नि दिलवाई और उसके भाई को उसके पुनर्विवाह का आदेश दिया।

लेखक से संबंधित कुछ प्रश्न 

  1. रामवृक्ष बेनीपुरी का जन्म कब हुआ – सन 1899 में
  2. रामवृक्ष बेनीपुरी का जन्म कहाँ हुआ – बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के बेनीपुर गांव में
  3. रामवृक्ष बेनीपुरी की मृत्यु कब हुई – सन 1968 में
  4. रामवृक्ष बेनीपुरी जी का आरंभिक जीवन कठिनाइयों और संघर्षों में क्यों बीता – क्योंकि उनके माता-पिता का देहांत बहुत छोटी उम्र में हो गया था।
  5. कितने वर्ष की आयु में बेनीपुरी जी की रचनाएं पत्र – पत्रिकाओं में छपने लगी  -15 वर्ष की आयु में
  6. रामवृक्ष बेनीपुरी , भारतीय राष्ट्रीय स्वाधीनता आंदोलन से सक्रिय रूप से कब जुड़े –  सन् 1920 में
  7. विशिष्ट शैलीकार होने के कारण उन्हें क्या उपाधि मिली  – “कलम का जादूगर”
  8. उन्होंने कौन -कौन सी दैनिक , साप्ताहिक एवं मासिक पत्र-पत्रिकाओं का संपादन किया – तरुण भारत , किसान मित्र , बालक , युवक , योगी , जनता , जनवाणी और नई धारा 
  9. रामवृक्ष बेनीपुरी का पूरा साहित्य किस नाम से प्रकाशित है। बेनीपुरी रचनावली (आठ खंडों में )
  10. रामवृक्ष बेनीपुरी के उपन्यास का नाम क्या हैं  –  पतियों के देश में
  11. रामवृक्ष बेनीपुरी की कहानी किस नाम से प्रकाशित हैं  –  चिता के फूल
  12. रामवृक्ष बेनीपुरी के नाटक का नाम क्या हैं  –  अंबपाली
  13. रामवृक्ष बेनीपुरी के रेखाचित्र का नाम बताइये   –  माटी की मूरतें
  14. रामवृक्ष बेनीपुरी के यात्रा वृतांत का क्या नाम हैं – पैरों में पंख बांधकर
  15. रामवृक्ष बेनीपुरी का संस्मरण किस नाम से प्रकाशित हैं  – जंजीरें और दीवारें

Balgobin Bhagat Class 10 MCQ

“बालगोबिन भगत” पाठ के सारांश को हमारे YouTube channel में देखने के लिए इस Link में Click कीजिए । – (Padhai Ki Batein /पढाई की बातें)

Note –Class 8th , 9th , 10th , 11th , 12th के हिन्दी विषय के सभी Chapters से संबंधित videos हमारे YouTube channel  (Padhai Ki Batein /पढाई की बातें)  पर भी उपलब्ध हैं। कृपया एक बार अवश्य हमारे YouTube channel पर visit करें । सहयोग के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यबाद।

You are most welcome to share your comments . If you like this post . Then please share it . Thanks for visiting.

यह भी पढ़ें……

कक्षा 10 हिन्दी कृतिका भाग 2 

माता का आँचल का सारांश

 माता का ऑचल पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

जार्ज पंचम की नाक का सारांश 

जार्ज पंचम की नाक के प्रश्न उत्तर 

साना साना हाथ जोड़ि का सारांश 

साना साना हाथ जोड़ि के प्रश्न उत्त

कक्षा 10 हिन्दी क्षितिज भाग 2 

पद्य खंड 

सूरदास के पद का भावार्थ 

सूरदास के पद के प्रश्न उत्तर

सूरदास के पद के MCQ 

सवैया व कवित्त कक्षा 10 का भावार्थ 

सवैया व कवित्त कक्षा 10 के प्रश्न उत्तर

आत्मकथ्य कविता का भावार्थ कक्षा 10

आत्मकथ्य कविता के प्रश्न उत्तर

उत्साह कविता का भावार्थ व प्रश्न उत्तर

अट नही रही हैं कविता का भावार्थ व प्रश्न उत्तर 

उत्साह व अट नही रही हैं के MCQS 

कन्यादान कक्षा 10 का भावार्थ

कन्यादान कक्षा 10 के प्रश्न उत्तर

राम लक्ष्मण परशुराम संबाद कक्षा 10 के प्रश्न उत्तर

राम लक्ष्मण परशुराम संवाद पाठ का भावार्थ 

छाया मत छूना कविता का भावार्थ

छाया मत छूना के प्रश्न उत्तर 

संगतकार का भावार्थ 

संगतकार के प्रश्न उत्तर

कक्षा 10 हिन्दी क्षितिज भाग 2 

गद्द्य खंड 

लखनवी अंदाज पाठ सार कक्षा 10  हिन्दी क्षितिज

लखनवी अंदाज पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

बालगोबिन भगत पाठ का सार 

बालगोबिन भगत पाठ के प्रश्न उत्तर

नेताजी का चश्मा” पाठ का सारांश  

नेताजी का चश्मा” पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

मानवीय करुणा की दिव्य चमक का सारांश 

मानवीय करुणा की दिव्य चमक के प्रश्न उत्तर

एक कहानी यह भी का सारांश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *