Fasal Class 10 Explanation : फसल का भावार्थ कक्षा 10

Fasal Class 10 Explanation ,

Fasal Class 10 Explanation Hindi Kshitij 2 Chapter 6 , NCERT Solution Of Fasal Class 10 , फसल का भावार्थ कक्षा 10 हिन्दी क्षितिज 2 अध्याय 6 , फसल के प्रश्न उत्तर कक्षा 10 

Fasal Class 10 Explanation

फसल का भावार्थ

Fasal Class 10 Explanation

Note –

  1. “फसल” कविता के MCQS पढ़ने के लिए Link में Click करें – Next Page
  2. “फसल” कविता के भावार्थ को हमारे YouTube channel  में देखने के लिए इस Link में Click करें। YouTube channel link – ( Padhai Ki Batein / पढाई की बातें)

यह कविता हमें किसान और कृषि संस्कृति के करीब ले जाती हैं। हमें कृषि व प्रकृति का महत्व समझती है। इस कविता के माध्यम से कवि यह बताना चाहते हैं कि इंसान की मेहनत और प्रकृति में मिलने तत्व , दोनों के सहयोग से ही खेतों में फसल लहलहा उठती हैं। यानि इंसान और प्रकृति एक दूसरे के पूरक है। इंसान जो भी चाहे , जब भी चाहे प्रकृति से बेझिझक ले सकता है। 

Fasal Class 10 Explanation

काव्यांश 1.

एक के नहीं ,

दो के नहीं ,

ढ़ेर सारी नदियों के पानी का जादू ;

एक के नहीं ,

दो के नहीं ,

लाख-लाख कोटि-कोटि हाथों के स्पर्श की गरिमा ;

एक की नहीं ,

दो की नहीं ,

हजार-हजार खेतों की मिट्टी का गुण धर्म ;

भावार्थ –

अलग-अलग नदियों का पानी जब भाप बनकर उड़ता है तो वो आकाश में बादल के रूप में परिवर्तित हो जाता है। और फिर वही बादल बरस कर धरती पर पानी के रूप में वापस आ जाते हैं। जिससे फसलों को भरपूर पनपने का मौका मिलता हैं। 

इसीलिए उपरोक्त पंक्तियों में कवि कहते हैं कि एक या दो नहीं बल्कि अनेक नदियों का पानी अपना जादुई असर दिखाता है तब जाकर फसल पैदा होती हैं।

हजारों खेतों पर दुनिया भर के हजारों किसान दिन रात मेहनत करते हैं। अपनी फसल की देखभाल करते हैं। उसको समय समय पर खाद , पानी और जरूरी पोषक तत्व देते हैं। तब जाकर कहीं फसल खेतों पर लहलहा उठती है।

इसीलिए इन पंक्तियों में कवि कहते है कि एक नहीं दो नहीं बल्कि लाखों-करोड़ों हाथों के अथक परिश्रम का परिणाम होती है फसल। अर्थात करोड़ों किसानों की रात-दिन की मेहनत से फसल उगती हैं।

अच्छी फसल उगाने के लिए खेतों की मिट्टी अच्छी होनी चाहिए।क्योंकि मिट्टी की विशेषताएं भी फसलों की गुणवत्ता को प्रभावित करती है। यानी मिट्टी से मिलने वाले जरूरी पोषक तत्व फसलों के लिए जरूरी होते हैं और अलग-अलग तरह की फसलों को उगाने के लिए अलग-अलग तरह की  मिट्टी व उसके गुण आवश्यक होते हैं। 

इसीलिए कवि कहते हैं कि एक या दो नहीं बल्कि हजारों खेतों की उपजाऊ मिट्टी के पोषक तत्व भी इन फसलों के अंदर छुपे हुए हैं। 

काव्यांश 2 .

फसल क्या है ?

और तो कुछ नहीं है वह

नदियों के पानी का जादू है वह

हाथों के स्पर्श की महिमा है

भूरी-काली-संदली मिट्टी का गुण धर्म है

रूपांतर है सूरज की किरणों का

सिमटा हुआ संकोच है हवा की थिरकन का !

भावार्थ –

फसलों को अच्छी तरह से फलने फूलने के लिए किसान की मेहनत के साथ-साथ पानी भी आवश्यक है। साथ में मिट्टी का गुणवत्तापूरक भी जरूरी है। क्योंकि मिट्टी की विशेषताओं के अनुसार ही फसल पैदा होती है। अलग-अलग तरह की मिट्टी में अलग-अलग तरह के पोषक तत्व व गुण पाए जाते हैं जिससे अनुसार अलग-अलग तरह की फसलों को पैदा किया जा सकता है। 

पौधों को बढ़ने के लिए सूरज की किरणें व कार्बन डाइऑक्साइड गैस भी आवश्यक है क्योंकि सूरज की रोशनी में ही ये पौधे मिट्टी से जरूरी पोषक तत्व , पानी व हवा से कार्बन डाइऑक्साइड गैस लेकर अपना भोजन बनाते हैं। जिसे प्रकाश संश्लेषण ( Photosynthesis) कहा जाता हैं। 

इसीलिए उपरोक्त पंक्तियों में कवि पहले तो प्रश्न पूछते हैं कि फसल क्या हैं ? फिर उसी प्रश्न का जबाब देते हुए कहते हैं कि करोड़ों किसानों की दिन-रात की मेहनत का नतीजा फसल के रूप में मिलता हैं। नदियों के पानी का जादू फसल के रूप दिखाई देता हैं क्योंकि बिना पानी के फसल का उगना नामुकिन हैं।  

भूरी , काली व खुशबूदार मिट्टी यानि अलग-अलग प्रकार की मिट्टी के पोषक तत्व और सूरज की किरणें भी अपना रूप बदल कर इन फसलों के अंदर समाहित रहती हैं। क्योंकि सूरज की रोशनी और हवा में उपस्थित कार्बन डाइऑक्साइड गैस को अवशोषित कर ही पौधे अपनी पत्तियां के दवारा भोजन बनाते हैं। जिसे कविता में कवि ने सूरज की किरणों का रूपांतर और हवा की थिरकन का नाम दिया हैं। 

Question Answer Of Fasal Class 10 Hindi Kshitij 2 Chapter 6

प्रश्न 1.

कवि के अनुसार फसल क्या है ?

उत्तर-

कवि के अनुसार फसल करोड़ों किसानों की लगन व मेहनत का नतीजा , नदियों के पानी का जादू  , मिट्टी में पाए जाने वाले जरूरी अवयव , सूर्य की किरणें व हवा में पायी जाने वाली कार्बन डाइऑक्साइड गैस के मिलन का नतीजा है।

प्रश्न 2.

कविता में फसल उपजाने के लिए आवश्यक तत्वों की बात कही गई है। वे आवश्यक तत्व कौन-कौन से हैं ?

उत्तर-

हवा , पानी , मिट्टी में उपस्थित पोषक तत्व व सूर्य की किरणें। ये सभी फसल उगाने के लिए बहुत आवश्यक हैं।

प्रश्न 3.

फसल को “हाथों के स्पर्श की गरिमा” और “महिमा” कहकर कवि क्या व्यक्त करना चाहता है ?

उत्तर- 

“हाथों के स्पर्श की गरिमा” और “महिमा” कहकर कवि किसान की अथक मेहनत को सम्मानित करते हैं। क्योंकि किसान की लगन व कठिन परिश्रम के बिना खेतों में फसल नहीं उग सकती हैं।

फसल के फलने-फूलने में एक या दो नहीं बल्कि लाखों-करोड़ों किसानों के हाथों के स्पर्श की गरिमा विद्यमान होती है। कवि कहते हैं कि मिट्टी और पानी के पोषक तत्व तथा सूरज की उर्जा भी तभी सार्थक होती है जब किसानों के हाथों का स्पर्श इसे गरिमा प्रदान करता हैं। 

प्रश्न 4.

भाव स्पष्ट कीजिए ?

“रूपांतर है सूरज की किरणों का
सिमटा हुआ संकोच है हवा की थिरकन का !”

उत्तर-

भोजन बनाने के लिए पौधों को सूरज की रोशनी व हवा की आवश्यकता होती है। इसीलिए कवि कहते हैं कि एक ओर जहाँ सूरज की किरणें अपना रूप बदल कर इन फसलों के अंदर समाहित है वही दूसरी ओर हवा की थिरकन भी इन पौधों को फलन फूलने में मदद करती हैं।

Fasal Class 10 Explanation
Note – “फसल” कविता के भावार्थ को हमारे YouTube channel  में देखने के लिए इस Link में Click करें। YouTube channel link – (Padhai Ki Batein / पढाई की बातें)

Note – Class 8th , 9th , 10th , 11th , 12th के हिन्दी विषय के सभी Chapters से संबंधित videos हमारे YouTube channel   (Padhai Ki Batein / पढाई की बातें) पर भी उपलब्ध हैं। कृपया एक बार अवश्य हमारे YouTube channel पर visit करें । सहयोग के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यबाद।

You are most welcome to share your comments . If you like this post . Then please share it . Thanks for visiting.

यह भी पढ़ें……

कक्षा 10 हिन्दी

कृतिका भाग 2 

माता का आँचल का सारांश

 माता का ऑचल पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

माता का ऑचल पाठ के MCQ

जार्ज पंचम की नाक का सारांश

जार्ज पंचम की नाक के प्रश्न उत्तर

जार्ज पंचम की नाक के MCQ

साना साना हाथ जोड़ि का सारांश 

साना साना हाथ जोड़ि के प्रश्न उत्तर

साना साना हाथ जोड़ि के MCQS

कक्षा 10 हिन्दी क्षितिज भाग 2 

पद्य खंड 

सूरदास के पद का भावार्थ 

सूरदास के पद के प्रश्न उत्तर

सूरदास के पद के MCQ

सवैया व कवित्त का भावार्थ

सवैया व कवित्त के प्रश्न उत्तर

सवैया व कवित्त के MCQ

आत्मकथ्य कविता का भावार्थ कक्षा 10

आत्मकथ्य कविता के प्रश्न उत्तर

आत्मकथ्य कविता के MCQS

उत्साह कविता का भावार्थ व प्रश्न उत्तर

अट नही रही हैं कविता का भावार्थ व प्रश्न उत्तर

उत्साह व अट नही रही हैं के MCQS

कन्यादान का भावार्थ

कन्यादान के प्रश्न उत्तर

कन्यादान के MCQ

राम लक्ष्मण परशुराम संवाद पाठ का भावार्थ

राम लक्ष्मण परशुराम संबाद के प्रश्न उत्तर

राम लक्ष्मण परशुराम संबाद के MCQ

छाया मत छूना कविता का भावार्थ

छाया मत छूना के प्रश्न उत्तर

छाया मत छूना के MCQ 

संगतकार का भावार्थ

संगतकार के प्रश्न उत्तर

संगतकार के MCQ

फसल का भावार्थ व प्रश्न उत्तर

फसल के MCQS 

यह दंतुरित मुस्कान का भावार्थ

यह दंतुरित मुस्कान के प्रश्न उत्तर

यह दंतुरित मुस्कान के MCQ 

कक्षा 10 हिन्दी क्षितिज भाग 2 

गद्द्य खंड 

लखनवी अंदाज पाठ सार हिन्दी क्षितिज

लखनवी अंदाज पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

लखनवी अंदाज पाठ के प्रश्न MCQ

बालगोबिन भगत पाठ का सार

बालगोबिन भगत पाठ के प्रश्न उत्तर

बालगोबिन भगत पाठ के MCQ 

नेताजी का चश्मा पाठ का सारांश

नेताजी का चश्मा पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

नेताजी का चश्मा पाठ के MCQ

मानवीय करुणा की दिव्य चमक का सारांश 

मानवीय करुणा की दिव्य चमक के प्रश्न उत्तर

मानवीय करुणा की दिव्य चमक के MCQ

एक कहानी यह भी का सारांश

एक कहानी यह भी  के प्रश्न उत्तर

Leave a Reply

Your email address will not be published.