मां नंदा-सुनंदा देवी महोत्सव, अपार श्रद्धा व विश्वास का प्रतीक

Maa Nanda-Sunanda Devi Mahotsav At Nainital. Maa Nanda-Sunanda Devi Mahotsav कुमाऊं में बड़े श्रद्धा व विश्वास के साथ मनाया जाता है मां नंदा-सुनंदा देवी महोत्सव (Maa Nanda-Sunanda Devi Mahotsav)। नंदा…

खतड़वा या गाईत्यार ,पशुधन को समर्पित एक त्यौहार।

गायों को समर्पित एक त्यौहार,खतड़वा या गाईत्यार खतड़वा या गाईत्यार गाईत्यार या गौ त्यार जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है।गायों को समर्पित एक त्यौहार। कुमाऊं के पर्वती भू भाग…

Hiljatra: हिलजात्रा कृषि ,किसान व पशुओं पर आधारित पर्व

Hiljatra हिलजात्रा कृषि ,किसान व पशुओं पर आधारित पर्व Hiljatra (हिलजात्रा) उत्तराखंड में साल भर ऐसे पर्व मनाए जाते हैं जिनका सीधा संबंध ऋतु परिवर्तन से ,फसल बोने व काटने…

घुघुतिया त्यौहार क्यों मनाया जाता है कुमांऊ में ?जानिए महत्व

Why Ghughutiya Tyauhar is celebrated in Kumaon ? घुघुतिया त्यौहार मनाने की कहानी ,घुघुतिया त्यौहार या उतरैणी त्यौहार या पुस्योडिया त्यौहार in hindi  उत्तराखंड के घर -घर में मनाया जाने…

घी संक्रांति या धी त्यार या घ्यूसग्यान या ओलगिया का त्यौहार

घी संक्रांति हमारा देश प्राचीन काल से ही कृषि प्रधान देश रहा है ।यहां पर कृषि ,किसान ,पशु तथा ऋतु से संबंधित अनेक पर्व मनाए जाते हैं। कोई पर्व खेती…

सातों व आठों पर्व (गमरा पर्व) क्यों मनाया जाता है

सातों व आठों पर्व (गमरा पर्व) in hindi सातों व आठों का पर्व भगवान व प्रकृति से इंसान का नाता उतना ही पुराना है जितना इंसान का इंसान से। पूरी…

हरेला या हरियाली ,कुमाऊं का एक लोकपर्व 

हरेला या हरियाली ,कुमाऊं का एक लोकपर्व , Hrela Festival , क्यों और कब मनाया जाता है हरेला पर्व in hindi हरेला पर्व  उत्तराखंड में पूरे वर्ष अलग-अलग महीनों में…

Chaitol Parv – सोरघाटी की एक अनोखी परंमपरा (चैतोल पर्व)

Chaitol Parv , चैतोल पर्व – सोरघाटी की एक अनोखी परंमपरा Chaitol Parv चैतोल पर्व पूरे कुमाऊं में चैत्र मास में भिटौली देने की एक अनोखी व विशिष्ट परंमपरा है…

Chaudashi Ka Parv :छिपलाकोट के ह्रदय में चौदशी का पर्व

Chaudashi Ka Parv ,छिपलाकोट के ह्रदय में  “चौदशी” का पर्व in hindi चौदशी का पर्व Chaudashi Ka Parv प्राचीन काल से हमारी भारतीय संस्कृति में  हिमालय का सर्वोच्च स्थान रहा…