Sana Sana Hath Jodi Class 10 MCQ : साना साना हाथ

Sana Sana Hath Jodi Class 10 MCQ ,

Sana Sana Hath Jodi Class 10 MCQ Hindi Kritika Chapter 3 , साना साना हाथ जोड़ि कक्षा 10 MCQ ,

Sana Sana Hath Jodi Class 10 MCQ

साना साना हाथ जोड़ि MCQ

Note –  

  1. साना साना हाथ जोड़ि पाठ का सारांश पढ़ने के लिए इस Link में Click करें – Next Page
  2. साना साना हाथ जोड़ि पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर पढ़ने के लिए Click करें – Next Page
  3. साना साना हाथ जोड़ि ” पाठ के सारांश को हमारे YouTube channel  में देखने के लिए इस Link में Click करें  ।   YouTube channel link – (Padhai Ki Batein / पढाई की बातें)
  4. “साना साना हाथ जोड़ि” की लेखिका कौन हैं – मधु कांकरिया
  5. “साना साना हाथ जोड़ि” क्या हैं –  एक यात्रा वृतांत
  6. “साना साना हाथ जोड़ि” में लेखिका ने कहाँ की यात्रा का वर्णन किया है – सिक्किम (गैंगटॉक शहर) की यात्रा
  7. “साना साना हाथ जोड़ि” यात्रा वृतांत की शुरुआत लेखिका के कहाँ पहुंचने के बाद शुरू होती है – गैंगटॉक शहर में
  8. गैंगटॉक शहर में लेखिका , टिमटिमाते हजारों तारों से भरे आसमान को देखकर क्या महसूस करती हैं  – एक अजीब सा सम्मोहन
  9. लेखिका ने गैंगटॉक शहर को क्या कह कर सम्मानित किया -“मेहनतकश बादशाहों का शहर”
  10. लेखिका गैंगटॉक शहर को “मेहनतकश बादशाहों का शहर” क्यों कहती हैं –   क्योंकि वहां के लोग बहुत अधिक मेहनत कर अपना जीवन यापन करते हैं।
  11. तारों भरी खूबसूरत रात देखने के बाद , अगली सुबह लेखिका ने कौन सी प्रार्थना की –  “साना साना हाथ जोड़ी , गर्दहु प्रार्थना। हाम्रो जीवन तिम्रो कौसेली”
  12. “साना साना हाथ जोड़ी…..” , यह प्रार्थना लेखिका को किसने सिखाई थी  – एक नेपाली युवती ने
  13. “साना साना हाथ जोड़ी , गर्दहु प्रार्थना। हाम्रो जीवन तिम्रो कौसेली” का क्या अर्थ हैं – “छोटे-छोटे हाथ जोड़कर प्रार्थना कर रही हूं कि मेरा सारा जीवन अच्छाइयों को समर्पित हो”
  14. लेखिका यूमथांग की ओर चलने से पहले , हिमालय की कौन सी चोटी देखने के लिए अपनी बालकनी में पहुँचती हैं – हिमालय की तीसरी सबसे बड़ी चोटी कंचनजंघा
  15. गंतोक में सुबह आंख खुलते ही लेखिका बालकनी की ओर क्यों दौड़ी – कंचनजंगा की चोटी देखने के लिए
  16. लेखिका को कंचनजंघा की चोटी क्यों नहीं दिखाई दी  – बादल होने के कारण
  17. यूमथांग घाटी की क्या विशेषता हैं – यूमथांग घाटी को “फूलों की घाटी” भी कहा जाता है क्योंकि यहां पर तरह-तरह के रंग – बिरंगे फूल खिले रहते है।
  18. गैंगटॉक शहर से यूमथांग कितनी दूरी पर था  – 149 किलोमीटर
  19. लेखिका के गाइड व ड्राइवर का क्या नाम था –  जितेन नार्गे
  20. जितेन नार्गे की जीप में किसकी तस्वीर लगी हुई थी – दलाई लामा की
  21. लेखिका यूमथांग घाटी को देखने किसके साथ गई – अपने गाइड जितेन नार्गे व सहेली मणि के साथ
  22. यूमथांग जाते वक्त , रास्ते में सफेद पताकाएं किसके द्वारा लगाई गई थी – बौद्ध धर्मावलंबियों के
  23. सफेद पताकाएं किसका प्रतीक हैं –  शांति और अहिंसा का प्रतीक
  24. मंत्र लिखी सफेद पताकाएं कैसे लहरा रही थी – किसी ध्वज की तरह
  25. बौद्ध धर्म में किसी बुद्धिस्ट की मृत्यु होने पर उसकी आत्मा की शांति के लिए शहर से दूर किसी पवित्र स्थान पर कितनी सफेद पताकाएं फहराई जाती है – 108 पताकाएं
  26. बौद्ध धर्म में किसी शुभ अवसर या नए कार्य की शुरुआत करने पर सफेद की जगह कौन सी पताकाएं फहराई जाती हैं – रंगीन पताकाएं
  27. “गाइड” फिल्म की शूटिंग कहाँ हुई थी  – “कवी लोंग स्टॉक ” में
  28. यूमथांग जाते वक्त , रास्ते में लेखिका ने एक कुटिया के अंदर क्या धूमते हुए देखा -“प्रेयर व्हील यानि धर्म चक्र”
  29. बौद्ध धर्म में  “प्रेयर व्हील” को क्या माना जाता हैं – एक धर्म चक्र
  30. बौद्ध धर्म के अनुसार , किसको घुमाने से सारे पाप धुल जाते हैं – “प्रेयर व्हील” को
  31. नार्गे ने धर्मचक्र की क्या विशेषता बताई  – इसको घुमाने से सारे पाप धुल जाते हैं।
  32.  “पहाड़ हो या मैदान या कोई भी जगह हो , इस देश की आत्मा एक जैसी ही है” , यह कथन किसका हैं – लेखिका का
  33. पहाड़ की ऊंचाई की तरफ बढ़ने पर लेखिका को नीचे घाटियों में पेड़ पौधों के बीच बने छोटे-छोटे घर कैसे प्रतीत हो रहे थे – ताश के पत्तों से बने घरों की तरह
  34. लेखिका ने तीर्थयात्रियों , कवियों , दर्शनार्थियों  , साधु संतों के आराध्य किसे कहा हैं – हिमालय को
  35. लेखिका को हिमालय का रूप कैसा लगा -विराट व वैभवशाली
  36. लेखिका को क्या पल-पल बदलता हुआ नजर आ रहा था – हिमालय
  37. लेखिका ने यूमथांग जाते वक्त रास्ते में कौन सी नदी देखी – तीस्ता नदी
  38. पूरे वेग से बहती हुई तीस्ता नदी लेखिका को कैसी लगा रही थी – चांदी की तरह चमकती हुई
  39. लेखिका को किस झरने के सामने खड़े होकर ऐसा महसूस हुआ , जैसे कि उनके अंदर की सारी बुराइयां व दुष्ट वासनाएँ उसी झरने की निर्मल धारा में बह गई हों –  “सेवेन सिस्टर्स वॉटरफॉल” के झरने में  
  40. प्राकृतिक सौंदर्य के अलौकिक आनंद में डूबी लेखिका को कौन सा दृश्य झकझोर गया –  अपनी पीठ पर बच्चों को लादे पत्थर तोड़ती स्थानीय महिलाएँ का दृश्य
  41. रास्ते में लेखिका ने कुछ पहाड़ी औरतों को कुदाल और हथौड़ी से क्या करते हुए देखा – पत्थर तोड़ कर सड़क चौड़ी करते हुए
  42. मजदूर महिलाओं की पीठ में बंधी बड़ी सी टोकरियों में क्या रखा था – उनके अपने बच्चे
  43. लेखिका को क्या देखकर बड़ा आघात लगा – मजदूर महिलाओं का मातृत्व साधना और श्रम साधना वाला रूप
  44. पहाड़ों में रास्तों को चौड़ा बनाने के लिए किसका प्रयोग किया जाता है – डायनामाइट का
  45.  “कितना कम लेकर ये लोग , समाज को कितना अधिक वापस कर देते हैं” ,यह किसका कथन हैं – लेखिका का
  46. लेखिका से किसने लिफ्ट माँगी – स्कूल से घर लौटते सात-आठ साल के बच्चों ने
  47. सिक्क्मी परिधान पहने युवतियां बागानों में क्या कर रही थी – चाय की पत्तियां तोड रही थी।
  48. यूमथांग पहुंचने से पहले लेखिका ने एक रात कहाँ बिताई – लायुंग या लाचुंग में
  49. लायुंग कैसी जगह थी – गगनचुंबी पहाड़ों के तले एक छोटी सी शांत बस्ती
  50. लायुंग में रात होने पर , लेखिका की सहेली मणि , गाइड नार्गे के साथ -साथ अन्य लोगों ने क्या किया – नाचना – गाना 
  51. लायुंग में लोगों की आजीविका का मुख्य साधन क्या था – पहाड़ी आलू , धान की खेती और शराब
  52. लायुंग की सुबह कैसी थी -बेहद शांत व सुरम्य
  53. लेखिका लायुंग में क्या देखना चाहती थी – बर्फ
  54. बर्फ देखने की आशा में लेखिका कहाँ पहुंची थी – लायुंग
  55. लायुंग में बर्फबारी कम क्यों होने लगी थी –  प्रदूषण के कारण
  56. लेखिका को बर्फ देखने के लिए कहाँ जाना पड़ा – कटाओ
  57. कटाओ किस नाम से प्रसिद्द हैं – भारत का स्विट्जरलैंड
  58. कटाओ का पर्यटक स्थल कैसा था – अविकसित
  59. कटाओ किसलिए प्रसिद्द था – अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए
  60. लायुंग से कटाओ का सफर कितने घंटे का था – लगभग 2 घंटे
  61. कटाओ , लायुंग से कितने फ़ीट की ऊंचाई पर स्थित हैं – 500 फिट
  62. कटाओ में बर्फ होने का प्रमुख कारण क्या था –   प्रदूषण का न होना व पर्यटकों की आवाजाही कम होना
  63. कटाओ में बर्फ से ढके पहाड़ कैसे चमक रहे थे -चांदी की तरह
  64. कटाओ को देखकर लेखिका कैसा महसूस कर रही थी – जैसे ऋषि-मुनियों को वेदों की रचना करने की प्रेरणा यही से मिली हो
  65. लेखिका के अनुसार , किसके असीम सौंदर्य को कोई अपराधी भी देख ले तो , वह भी आध्यात्मिक या ऋषि हो जाए  – कटाओ के 
  66. “प्रकृति की जल संचय व्यवस्था कितनी शानदार हैं” , यह कथन किसका हैं – लेखिका की सहेली मणि का 
  67. प्रकृति कैसे जल संचय करती हैं – अनोखे ढंग से 
  68. लेखिका की सहेली मणि ने हिमशिखरों को क्या माना  – पूरे एशिया के जल स्तंभ 
  69. जल संचय के लिए प्रकृति जाडों में क्या करती है –  पहाड़ों की ऊंची-ऊंची चोटियों में बर्फ जमा कर देती हैं 
  70. लेखिका ने भारत और चीन के बॉर्डर एरिया में क्या देखा – फौजी छावनियों
  71.  “आप इस कड़कड़ाती ठंड में यहां कैसे रहते हैं – लेखिका ने यह बात किससे पूछी – एक फौजी से
  72. “आप चैन से इसीलिए सोते हैं क्योंकि हम यहां पहरा देते हैं” , यह जबाब किसका था – एक फौजी का
  73. लेखिका ने फौजी से क्या कह कर विदा ली – “फेरी भेटुला यानि फिर मिलेंगे”
  74. लेखिका ने चिप्स बेचती एक सिक्क्मी युवती से क्या पूछा – “क्या तुम सिक्किमी हो ”
  75. “नहीं , मैं इंडियन हूं” , यह किसने , किससे कहा – सिक्क्मी युवती ने लेखिका से 
  76. कौन से राज्य के लोग भारत में मिलकर काफी खुश हैं – सिक्किम के
  77. कौन सा राज्य पहले भारत का हिस्सा नहीं था -सिक्किम
  78. भारत में विलय से पहले सिक्किम क्या था – एक स्वतंत्र रजवाड़ा
  79. मणि ने पहाड़ी कुत्तों की क्या विशेषता बताई –  वो सिर्फ चांदनी रात में ही भोंकते हैं 
  80. सिक्किम के अधिकतर लोगों की जीविका का साधन क्या हैं – चाय के बागान में काम करना , सड़क निर्माण के कार्य में मजदूरी करना व आलू व धान की खेती करना।
  81. नार्गे ने लेखिका को किसके फुटप्रिंट वाला पत्थर दिखाया – गुरु नानक के
  82. नार्गे के अनुसार चावल की खेती कहाँ -कहाँ होती थी – जहां-जहां गुरु नानकजी की थाली से चावल छिटक कर गिर गए थे
  83. खेदुम कितने क्षेत्र में फैला हैं  –  लगभग 1 किलोमीटर 
  84. खेदुम क्या हैं – सिक्किम में एक ऐसी जगह जहाँ , वहां के लोगों की मान्यता के अनुसार देवी-देवता निवास करते हैं। 
  85. नार्गे के अनुसार किस स्थान पर देवी-देवता का निवास था  – खेदुम में
  86. जितेन नार्गे ने खेदुम में किसका निवास बताया – देवी-देवताओं का
  87. “मैडम गैंगटॉक नहीं गंतोक कहिए” , यह किसने , किससे कहा – नार्गे ने लेखिका से
  88. “गंतोक” का क्या अर्थ होता है –  पहाड़
  89.  सिक्किम के भारत में मिलने के बाद , किसने इसे पर्यटन स्थल ( टूरिस्ट स्पॉट)  बनाने का निर्णय लिया – भारतीय आर्मी के एक कप्तान शेखर दत्ता ने

Sana Sana Hath Jodi Class 10 MCQ ,

साना साना हाथ जोड़ि ” पाठ के सारांश को हमारे YouTube channel  में देखने के लिए इस Link में Click करें  ।   YouTube channel link – (Padhai Ki Batein / पढाई की बातें)

 Note – Class 8th , 9th , 10th , 11th , 12th के हिन्दी विषय के सभी Chapters से संबंधित videos हमारे YouTube channel (Padhai Ki Batein / पढाई की बातें) पर भी उपलब्ध हैं। कृपया एक बार अवश्य हमारे YouTube channel पर visit करें । सहयोग के लिए आपका बहुत – बहुत धन्यबाद।

You are most welcome to share your comments . If you like this post . Then please share it . Thanks for visiting.

यह भी पढ़ें……

कक्षा 10 हिन्दी

कृतिका भाग 2 

माता का आँचल का सारांश

 माता का ऑचल पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

माता का ऑचल पाठ के MCQ

जार्ज पंचम की नाक का सारांश

जार्ज पंचम की नाक के प्रश्न उत्तर

साना साना हाथ जोड़ि का सारांश 

साना साना हाथ जोड़ि के प्रश्न उत्तर

कक्षा 10 हिन्दी क्षितिज भाग 2 

पद्य खंड 

सूरदास के पद का भावार्थ 

सूरदास के पद के प्रश्न उत्तर

सूरदास के पद के MCQ

सवैया व कवित्त कक्षा 10 का भावार्थ 

सवैया व कवित्त कक्षा 10 के प्रश्न उत्तर

आत्मकथ्य कविता का भावार्थ कक्षा 10

आत्मकथ्य कविता के प्रश्न उत्तर

उत्साह कविता का भावार्थ व प्रश्न उत्तर

अट नही रही हैं कविता का भावार्थ व प्रश्न उत्तर

उत्साह व अट नही रही हैं के MCQS

कन्यादान कक्षा 10 का भावार्थ

कन्यादान कक्षा 10 के प्रश्न उत्तर

कन्यादान कक्षा 10 के MCQ

राम लक्ष्मण परशुराम संवाद पाठ का भावार्थ

राम लक्ष्मण परशुराम संबाद के प्रश्न उत्तर

राम लक्ष्मण परशुराम संबाद के MCQ

छाया मत छूना कविता का भावार्थ

छाया मत छूना के प्रश्न उत्तर

संगतकार का भावार्थ

संगतकार के प्रश्न उत्तर

कक्षा 10 हिन्दी क्षितिज भाग 2 

गद्द्य खंड 

लखनवी अंदाज पाठ सार कक्षा 10  हिन्दी क्षितिज

लखनवी अंदाज पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

लखनवी अंदाज पाठ के प्रश्न MCQ

बालगोबिन भगत पाठ का सार

बालगोबिन भगत पाठ के प्रश्न उत्तर

बालगोबिन भगत पाठ के MCQ 

नेताजी का चश्मा” पाठ का सारांश

नेताजी का चश्मा” पाठ के प्रश्न व उनके उत्तर

नेताजी का चश्मा” पाठ के MCQ

मानवीय करुणा की दिव्य चमक का सारांश 

मानवीय करुणा की दिव्य चमक के प्रश्न उत्तर

मानवीय करुणा की दिव्य चमक के MCQ

एक कहानी यह भी का सारांश

Leave a Reply

Your email address will not be published.