World Red Cross Day,कब और क्यों मनाया जाता है

World Red Cross Day, What is the Red Cross society ,Why World Red Cross Day celebrated ,विश्व रेडक्रॉस दिवस 8 मई को क्यों मनाया जाता है,विश्व रेडक्रॉस दिवस को अंतर्राष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस” भी कहा जाता है

World Red Cross Day

रेडक्रॉस सोसायटी एक ऐसी अंतरराष्ट्रीय संस्था है जो युद्ध में घायल लोगों,युद्ध बंदियों,आकस्मिक दुर्घटना में धायल लोगों,आपातकाल स्थिति और प्राकृतिक आपदाओं जैसे भुखमरी, बाढ़ ,तूफान ,भूकम्प में प्रभावित व पीड़ित लोगों की तत्काल तथा निस्वार्थ भाव से सेवा करती है।

World Red Cross Day

उन्हें तुरंत मानवीय व चिकित्सीय मदद करती है।इसके कर्मठ स्वयं सेवकों ने अपने समाजसेवा के कार्यों से मानवता व मानवीय मूल्यों को बचाये रखा है।

विश्व स्वास्थ्य दिवस क्यों मनाया जाता है ?

क्या है रेडक्रॉस (What is Red Cross Society)

रेडक्रॉस एक अंतरराष्ट्रीय संस्था है जो युद्ध में घायल लोगों,आकस्मिक दुर्घटना,आपातकाल स्थिति और प्राकृतिक आपदाओं में मानवीय व चिकित्सीय मदद करती है।और साथ ही साथ लोगों को उनके स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करने में मदद करती है।इस संस्था ने प्रथम विश्वयुद्ध तथा द्वितीय विश्वयुद्ध में युद्ध बंदियों, घायल सैनिकों तथा नागरिकों की सहायता की थी।

रेडक्रॉस के  मानव मात्र की सेवा के इसी भाव तथा शांति के प्रयासों को देखते हुए सन 1917 में “रेडक्रॉस संस्था / Red Cross Society” को शांति के लिए नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

रेडक्रॉस संस्था तीन बार नोबेल पुरस्कार से सम्मानित (Three Times Nobel Prize Winner Society)

रेडक्रॉस संस्था को तीन बार 1917, 1944 , 1963 में शान्ति के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस क्यों मनाया जाता है ?

विश्व रेडक्रॉस दिवस कब मनाया जाता है (When World Red Cross Day celebrated)

विश्व रेडक्रॉस दिवस ( World Red Cross Day)  प्रतिवर्ष 8 मई को मनाया जाता है।क्योंकि युद्ध में घायल सैनिकों या नागरिकों की बिना किसी भेदभाव के सेवा करने वाली और मानवता की सेवा का संदेश देने वाली रेडक्रॉस संस्था के संस्थापक व शांति के दूत जीन हेनरी ड्यूनैंट(Jean Henry Dunant) का जन्म 8 मई 1828 को हुआ था।

हेनरी ड्यूनैंट के जन्मदिन के अवसर यानि 8 मई को विश्व रेडक्रॉस दिवस (World Red Cross Day ) मनाया जाता है।World Red Cross Day को “अंतर्राष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस” भी कहा जाता हैहेनरी ड्यूनैंट को उनके महत्वपूर्ण और असाधारण मानव सेवा के प्रयासों के लिए पहले नोबेल पुरस्कार (शान्ति ,1901) से सम्मानित किया गया है।

कौन थे हेनरी ड्यूनेन्ट (Jean Henry Dunant)

8 मई 1828 (जेनेवा, स्वीटजरलैंड) को जन्मे हेनरी ड्यूनैंट एक स्विस व्यापारी व समाजसेवक थे।1859 में हुई साँलफ़ेरिन (इटली) की लड़ाई में धायल सैनिकों की दुर्दशा देखकर वो बहुत आहत हुए।क्योंकि युद्ध भूमि में पड़े घायल सैनिकों की ना तो ढंग से देखभाल हो रही थी और न ही उनकी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति हो रही थी।

राष्ट्रीय मजदूर दिवस क्यों मनाया जाता है ?

इन घायल सैनिकों के उपचार के लिए कोई चिकित्सा व्यवस्था भी उपलब्ध नहीं थी।युद्ध में घायल हुए इन सैनिकों के हालातों पर अपने कड़वे अनुभवों के आधार पर उन्होंने एक किताब लिखी जिसका नाम था “मेमोरी और सालफिरोनाे” और इसी के साथ 1863 में उन्होंने  रेडक्रॉस की “अंतरराष्ट्रीय समिति (ICRI )“का निर्माण किया।

इसकी शुरुआत महज 25 सदस्यों के साथ हुई जिसका उद्देश्य था ।युद्ध में धायल सैनिकों तथा पीड़ितों की बिना किसी भेदभाव के मदद करना व उनकी हर सम्भव देखभाल करना।इसका मुख्यालय जेनेवा में है।

साथ ही उन्होंने युद्ध भूमि में घायल सैनिकों व नागरिकों के अधिकार तथा उनकी सुरक्षा के लिए “जेनेवा समझौते” जैसे ऐतिहासिक समझौते का विचार भी रखा।जो आज भी बड़े प्रभावशाली ढंग से काम कर रहा है और दुनिया के अधिकतर देश इस समझौते के तहत कार्य करते हैं।

इनकी मृत्यु 82 वर्ष की उम्र में 30 अक्टूबर 1910 को हैदन में हुई।उन्होंने समाज सेवा के क्षेत्र में अनेक उल्लेखनीय कार्य किए तथा मानव हृदय में मानव की सेवा का भाव जगाया।इन्हीं के जन्म दिन को विश्व रेडक्रॉस दिवस के रूप में मनाया जाता है। 

Mother’s Day कब मनाया जाता हैं ?

रेडक्रॉस संस्था का उद्देश्य ( Aim of Red Cross Society)

  • दुनिया के हर देश में रेडक्रॉस आंदोलन को फैलाना तथा लोगों को रेडक्रॉस के बारे में तथा उसके कार्यों के बारे में जानकारी देना।
  • रेडक्रॉस के आधारभूत सिद्धांतों के संरक्षक के रूप में कार्य करना।
  • नई रेडक्रॉस समितियों को बना कर अधिक से अधिक लोगों की मदद करना।
  • नई रेडक्रॉस समितियों के संविधान से वर्तमान समितियों को सूचित करना।
  • सभी राज्यों को जेनेवा अधिवेशन स्वीकार करने के लिए राजी करना तथा अधिवेशन के निर्णयों का पालन करना।अगर इसका ढंग से पालन ना किया जाए तो इनकी कड़े शब्दों में निंदा करना।

जम्मू कश्मीर में धारा 370 व 35 A खत्म ?

  • कानून बनाने के लिए सरकारों पर दबाव डालना तथा इसकी अवहेलना को रोकने के लिए सेना को आदेश देना।
  • युद्ध काल में बंदियों और अन्य पीड़ितों की सहायता के लिए अंतरराष्ट्रीय एजेंसी का निर्माण करना।
  • बंदी शिविर की देखरेख,युद्ध बंदियों के स्वास्थ्य की देखभाल तथा उनकी स्थिति में सुधार करने का प्रयास करना।
  • शांति तथा युद्ध दोनों ही समय पर दुनिया की सभी सरकारों,राष्ट्रों,उपराष्ट्रों के बीच में मध्यस्थ की भूमिका निभाना ताकि दुनिया में शांति बनी रहे।
  • युद्ध,बीमारी अथवा आपातकाल से होनेवाले कष्टों से मुक्ति का मानवोचित कार्य स्वयं करना और दूसरों को ऐसा करने के लिए सहायता देना व प्रोत्साहित करना।

Father’s Day कब मनाया जाता है ? 

रेडक्रॉस संस्था की मुख्य विशेषता 

  • वर्तमान में रेडक्रॉस सोसायटी दुनिया के 191 देशों में कार्य कर रही है।
  • यह दुनिया भर से रक्त (Blood) इकट्ठा करने का काम करता है तथा जरूरतमंदों तक इसे पहुंचाता है।
  • रक्त (Blood) इकट्ठा करने की यह दुनिया की एकमात्र सबसे बड़ी संस्था है।
  • आज विश्व के अधिकतर ब्लड बैंकों की देखरेख रेडक्रॉस एवं उसकी सहयोगी संस्थाओं द्वारा की किया जाता है।
  • इसके द्वारा अनेक जगहों पर समय समय पर रक्तदान शिविर आयोजित किये जाते है।तथा लोगों को रक्तदान महादान करने को प्रेरित किया जाता है।जिससे हजारों लोगों की जान बचाई जाती हैं।
  • रेडक्रॉस एक राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्था है जिसका उद्देश्य लोगों, युद्ध बंदी सैनिकों प्राकृतिक आपदाओं में घायल लोगों, युद्ध में घायल नागरिकों व सैनिकों की देखरेख व मदद करना है।
  • रेडक्रॉस सोसायटी ने प्रथम विश्वयुद्ध तथा द्वितीय विश्व युद्ध में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।इन दोनों युद्धों में घायल सैनिकों तथा नागरिकों की हर संभव मदद का प्रयास किया।
  • आज पूरे विश्व में कहीं भी मानवता पर किसी भी तरह का कोई संकट आता है तो रेडक्रॉस संस्था एक भरोसेमंद दोस्त की भांति मदद का हाथ बढ़ाने को हमेशा तैयार रहती है।

Daughter’s Day क्यों मनाया जाता है ?

भारत में रेडक्रॉस सोसायटी की स्थापना (Red Cross Society in India)

भारत में रेडक्रॉस सोसायटी की स्थापना सन 1920 में “पार्लियामेंट एक्ट” के तहत की गई। स्थापना के वक्त भारतीय रेडक्रॉस संस्था के अध्यक्ष भारत के उपराष्ट्रपति होते थे।लेकिन सन 1994 में रेडक्रॉस एक्ट में संशोधन किया गया।जिसके बाद रेडक्रॉस संस्था में राष्ट्रपति को इसका पदेन अध्यक्ष तथा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री को पदेन सचिव बनाया गया है।

इस संस्था का शुभारंभ दान में मिले लगभग एक करोड रुपए (मूलधन) से किया गया।भारत में रेडक्रॉस सोसायटी के कार्यों को देखते हुए लगभग 9 साल बाद अंतरराष्ट्रीय रेडक्रॉस समिति ने इसे मान्यता दी।आज भारतीय रेडक्रॉस सोसाइटी की 750 से अधिक शाखाएं पूरे देश में विभिन्न स्थानों पर काम कर रही हैं।रेडक्रॉस एक स्वयंसेवी राहत संस्था है।जो देश के विभिन्न स्थानों में कार्य कर रही है।

इसमें शामिल होने वाले कर्मठ स्वयं सेवकों की संख्या हर रोज तेजी से बढ़ती जा रही है।देश के किसी भी प्रान्त में प्राकृतिक एवं मानवीय आपदा आती है तो यह संस्था राहत और बचाव कार्य में जुट कर अपने कर्तव्यों का निर्वाह बड़ी सफलता से करती है।यहां तक कि बंगाल में आयी भुखमरी के वक्त भी इसने लोगों की सहायता निस्वार्थ भाव से की।

कब मनाया जाता है विश्व पर्यावरण दिवस ?

रेडक्रॉस सोसाइटी का दायरा बढ़ा (Work of World Red Cross Society)

आज दुनिया के किसी भी भाग में प्राकृतिक एवं मानवीय आपदा आती है तो अंतरराष्ट्रीय रेडक्रॉस की टीम सबसे पहले वहां पहुंचकर राहत कार्य में जुट जाती हैं।स्थापना के वक्त यह सिर्फ युद्ध बंदी सैनिकों तथा युद्ध में घायल नागरिकों की देखरेख व मदद करने का कार्य करता था।लेकिन समय के साथ-साथ इसका काम का दायरा भी बढ़ते ही जा रहा है।

हाल के वर्षों में एशिया में आये भयंकर तूफान तितली,भूकम्प और सुनामी के द्वारा बरपाया गया और अमेरिका में आए कैटरीना तूफान में फंसे हजारों पीड़ित लोगों को बचाने तथा उनकी निस्वार्थ भाव से सेवा करने में रेडक्रॉस सोसाइटी ने अत्यधिक महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।

रेडक्रॉस संस्था के सदस्य (Members of Red Cross Society )

रेडक्रॉस सोसाइटी के सदस्य बहुत ही कर्मठ, अपने काम के लिए पूर्णतह समर्पित और कर्तव्यनिष्ठ होते हैं। बिना किसी भेदभाव के प्राणी मात्र की सेवा करने वाले ये स्वयंसेवक आपदा में फंसे पीड़ितों के लिए किसी देवदूत से कम नहीं होते।

26 जनवरी को ही गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है ?

रेडक्रॉस के चिन्ह का इस्तेमाल गैरकानूनी है

रेडक्रॉस के चिन्ह को हर कोई व्यक्ति इस्तेमाल नहीं कर सकता है।भले ही वह मेडिकल के क्षेत्र से ही समबन्ध क्यों ना रखता हो।जेनेवा कन्वेंशन (1960)के अनुसार रेडक्रॉस के चिन्ह का इस्तेमाल तबही किया जा सकता है जब युद्ध या संघर्ष की स्थिति हो और चिकित्सा कर्मियों और वाहनों  जिसमें चिकित्सा संबंधी सामग्री हो पर इस चिन्ह का प्रयोग किया जा सकता है।

चिन्ह का दुरुपयोग करने पर कम से कम 500/-रूपये का जुर्माना तथा उस सम्पत्ति को जब्त किया जा सकता है जिसमें इस चिन्ह का प्रयोग किया गया हो।और कभी कभी उन अस्पतालों ,एंबुलेंसों पर भी प्रतिबंध लगाया जा सकता है जिस पर इसका चिन्ह लगा हो

मोटर वाहन संशोधन बिल 2019 के बारे में जाने?

इस चिन्ह का इस्तेमाल सिर्फ वही लोग कर सकते हैं जिनको रेडक्रॉस सोसायटी द्वारा अधिकृत किया गया हो।जैसे सेना के चिकित्सक जवान और रेडक्रॉस के सदस्य या रेडक्रॉस के वाहन आदि।क्योंकि यह चिन्ह लोगों की उम्मीद और आशाओं को जगाता है।और यह चिन्ह धारण करने का अधिकार सिर्फ उन लोगों को है जो देवदूत बनकर लोगों की सहायता के लिए सदैव तत्पर रहते हैं

You are most welcome to share your comments.If you like this post.Then please share it.Thanks for visiting.

यह भी पढ़ें……

पृथ्वी दिवस कब मनाया जाता है ?

क्या है प्रधानमंत्री मुद्रा योजना ?

दुनिया की पहली ग्रीन रेलवे भारत में ?

क्या है प्रधानमंत्री आवास योजना ?

क्या है प्रधानमंत्री जन धन योजना ?

क्या है मिशन शक्ति ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.