Valentine Day :कब और क्यों मनाया जाता हैं Valentine Day

14 फरवरी को ह़ी क्यों मनाया जाता हैं वैलेंटाइन डे ? Why do we celebrate Valentine Day on 14 February ,Valentine Day gift idea ,Valentine Day history ,14 February Valentine Day lists .in hindi

Valentine Day :कब और क्यों मनाया जाता हैं Valentine Day
Valentine Day

Valentine Day (14 February)

फरवरी का महीना शुरू होते ह़ी हर युवा का दिल अपने दिल की कोमल भावनाओं का इजहार करने के लिए मचलने लगता हैं।बाजार भी तरह-तरह के एक से एक खुबसूरत उपहारों ,फूलों,कार्डो से सज जाता हैं।और हर धडकता दिल इंतजार करता हैं Valentine Day यानी 14 फरवरी का।

फरवरी माह के दूसरे हप्ते यानी 7 फरवरी से शुरू होने वाला यह त्यौहार अलग-अलग दिन अलग-अलग रूप में पूरे एक सप्ताह तक मनाया जाता हैं।7 फरवरी को रोज डे (Rose Day) , 8 फरवरी को प्रपोज डे (Propose Day), 9 फरवरी को चॉकलेट डे (Chocolate Day) ,10 फरवरी को टेडी डे (Teddy Day), 11 फरवरी को प्रॉमिस डे (Promise Day), 12 फरवरी को हग डे (Hug Day) ,13 फरवरी को किस डे (Kiss Day) और 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे (Valentine Day)

विश्व पर्यटन दिवस क्यों मनाया जाता है जानिए

वैलेंटाइन डे यानी प्यार के लिए,प्यार करने वालों के लिए समर्पित एक दिनअपने दिल के कोमल जज्बातों को इजहार करने का दिनआजकल की इस भागदौड़ भरी जिन्दगी में अपने प्रिय या प्रियजनों के साथ जीवन का कुछ अमूल्य समय बिताने का दिनएक दूसरे को उपहार लेने व देने का दिन।अपना मन पसंद खाना खाने का ,धूमने का दिन।

यानी यूं कहें कि अपने प्रिय व प्रियजनों के साथ दिल खोलकर वह सब कुछ करने का दिन जो दिल चाहता है।प्यार का इजहार करने केे साथ साथ खाना-पीना , घूमना ,गिफ्ट देना लेना यानी पूरा दिन मौज मस्ती।

क्या हैं प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि योजना ?

वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है? 

Valentine Day दुनिया भर में प्यार करने वाले लोगों के लिए किसी त्यौहार से कम नही है।खास कर युवा वर्ग इस दिन का बेसब्री से इंतजार करता हैं।कुछ यूरोपीय देशों में इसको बहुत पहले से मनाया जाता है।बड़े उत्साह ,उमंग व धूमधाम से मनाया जाने वाला यह दिन शायद क्रिसमस के बाद का सबसे बड़ा त्यौहार है।

Valentine Day का दिन प्यार के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर करने वाले संत वेलेंटाइन की याद में मनाया जाता है।संत वेलेंटाइन की शहादत का यह दिन (14 फरवरी) प्यार के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है।संत वेलेंटाइन मर कर भी प्यार करने वालों के दिलों में अमर हैइसीलिए पूरी दुनिया 14 फरवरी को संत वैलेंटाइन के नाम से ” Valentine Day ” मनाकर उन्हें याद करती है

वैलेंटाइन डे का इतिहास ( History of Valentine Day)

प्यार के इजहार के इस दिन की शुरुआत प्यार से नहीं हुई थी।इस दिन का नाम वेलेंटाइन डे नाम के एक संत के नाम से जुड़ा है।ऐसा माना जाता है कि लगभग तीसरी सदी में रोम में क्लाँडियस नाम का एक अत्याचारी राजा राज करता थाजिसका यह मानना था कि शादी हो जाने के बाद व्यक्ति अपनी पारिवारिक जिम्मेदारी में उलझ कर रह जाता हैऔर उसकी बुद्धि व शक्ति दोनों खत्म हो जाती हैं

जानिए वर्ल्ड रोज डे क्यों और कब मनाया जाता है

ऐसे में वह सिपाही या अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों को पूर्ण तरीके से नहीं निभा पाता हैंइसीलिए उसने अपने राज्य में यह आदेश जारी कर दिया कि कोई सिपाही या अधिकारी शादी नहीं करेगाऔर जो भी इसका उल्लंघन करेगा उसको कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी

राजा के इस आदेश से सभी अधिकारी व सिपाई दुखी थेलेकिन राजा के इस फैसले का उल्लंघन करने की किसी में हिम्मत नहीं थी।और वो मजबूरन राजा की इस आज्ञा का पालन करते थे

लेकिन उसी समय रोम के एक सहृदय व दयालु संत वेलेंटाइन ने राजा के इस फैसले का विरोध कियाऔर उन्होंने राजा से छुपकर कई युवा सिपाहियों और अधिकारियों की उनकी प्रेमिका से गुप्त तरीके से शादी करवाईलेकिन एक दिन इस बात का पता राजा को चल ही गयाराजा संत वैलेंटाइन से अत्यधिक नाराज हुआ।और राजा ने संत वेलेंटाइन को जेल में डाल दिया और उनको मौत की सजा सुना दी गई

क्या हैं प्रधानमन्त्री श्रमयोगी मानधन पेंशन योजना ?

जेल के अंदर संत वेलेंटाइन अपनी मौत की तारीख यानी 14 फरवरी का इंतजार कर रहे थेएक दिन अचानक उस जेल का जेलर उनके पास आया।उस जेलर की एक अंधी बेटी थी।जेलर ने संत से अपनी बेटी की आँखों की रोशनी लौटा देने की विनती की।ऐसा माना जाता है कि संत वैलेंटाइन के पास जादुई शक्ति थीजिसके बलबूते पर उसने जेलर की बेटी की आंखों की रोशनी लौटा दी

आँखों की रोशनी लौट जाने के बाद वैलेंटाइन और जेलर की बेटी के बीच में गहरी दोस्ती हो गई।जब 14 फरवरी को संत वैलेंटाइन को फांसी लगने वाली थीतब उन्होंने अपनी मौत से ठीक पहले जेलर से एक कलम और कागज मांगाऔर उसमें जेलर की ही बेटी को एक अलविदा संदेश लिखा

पूरे संदेश के आखिर में उन्होंने  “तुम्हारा वेलेंटाइन/Your’s Valentine ” लिखा थायही वह शब्द हैं जिनकी वजह से आज भी पूरे विश्व में प्रेमी युगल एक दूसरे को अपना “वैलेंटाइन” कहते हैंऔर संत की शहादत का यह दिन प्यार के प्रतीक के रूप में मानाया जाने लगा।संत वेलेंटाइन मर कर भी प्यार करने वालों के दिलों में अमर हैइसीलिए पूरी दुनिया 14 फरवरी को संत वैलेंटाइन के नाम से ” Valentine Day ” मानकर उन्हें याद करती है

हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है जानिए

वैलेंटाइन डे
वैलेंटाइन डे

वेलेंटाइन सप्ताह ( Valentine Week)

Valentine Day भले ह़ी 14 फरवरी को मनाया जाता होलेकिन वेलेंटाइन सप्ताह की शुरुआत 7 फरवरी से शुरू हो जाती है।गिले शिकवे भूल कर दिलों को जोड़ने वाला यह पर्व पूरे एक सप्ताह तक चलता है।  

Valentine Day lists 

Valentine Week 7 फरवरी से 14 फरवरी तक मनाया जाता है।लेकिन 14 फरवरी के बाद भी Valentine से जुड़े अन्य दिन मनाये जाते है Valentine Day lists …

  1. 7 फरवरी को रोज डे (Rose Day)
  2. 8 फरवरी को प्रपोज डे (Propose Day)
  3. 9 फरवरी को चॉकलेट डे (Chocolate Day)
  4. 10 फरवरी को टेडी डे (Teddy Day)
  5. 11 फरवरी को प्रॉमिस डे (Promise Day)
  6. 12 फरवरी को हग डे (Hug Day)
  7. 13 फरवरी को किस डे (Kiss Day)
  8. 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे (Valentine Day)
  9.  15 फरवरी को स्लैप डे (Slap Day)
  10. 16 फरवरी को किक डे (Kick Day)
  11. 17 फरवरी को परफ्यूम डे (Perfume Day)
  12. 18 फरवरी को फ्लटिंग डे (Flirting day)
  13. 19 फरवरी को कन्फेशन डे (Confession Day)
  14. 20 फरवरी को मिसिंग डे (Missing Day)
  15. 21 फरवरी को ब्रेकअप डे (Break Up Day) मनाया जाता हैं

बंदे भारत एक्सप्रेस क्यों हैं खास..जानिए 

गुलाब हैं प्यार का प्रतीक ( Valentine Day rose )

वैसे तो हर फूल अपने आप में लोगों को प्यार का संदेश देता हैं।घर आंगन में खिला कोई भी फूल जीवन को एक नये उत्साह व उमंग से भर देता हैं।जीवन जीने की प्रेरणा देता हैं।लेकिन गुलाब के फूल की तो बात ह़ी कुछ और हैं।यह फूल सबसे अलग हैं क्योंकि इसको प्यार का इजहार करने के लिए चुना गया हैं। गुलाब कई रंगों में मिलता है और हर रंग कुछ ना कुछ कहता है।जैसे 

  • सफेद गुलाब शांति का प्रतीक है
  • पीला गुलाब दोस्ती का प्रतीक है
  • गुलाबी गुलाब ख़ुशी व सौम्यता का प्रतीक है
  • नारंगी गुलाब उत्साह का प्रतीक है
  • लाल गुलाब प्यार का प्रतीक है

उपहार देकर किया जाता है प्यार का इजहार 

चूकिं Valentine Day पूरे एक सप्ताह तक मनाया जाता हैं।और हर दिन किसी न किसी रूप में मनाया जाता हैं ।इसीलिए लोग उसी हिसाब से अपने वैलेंटाइन को उपहार देते हैं।अपने दिल के जज्बातों को शब्दों में बयां करने के लिए लोग प्रेम चिन्हें जैसे कार्ड ,गुलाब के फूल ,मिठाई ,चॉकलेट ,दिल ,क्यूपिड आदि उपहार में एक दूसरे को देते हैं

वैसे आजकल इंटरनेट का जमाना हैज्यादातर लोग जो अपनी व्यस्तता के कारण या दूसरे शहर या देशों में रहने के कारण मिल नही पाते हैं वो फूल, गिफ्ट, कार्ड या कोई भी उपहार अपने प्रियजनों को ऑनलाइन भेज देते है।और आजकल बाजार में ऐसी बहुत सारी कंपनियोंं हैं जो होम डिलीवरी की सुबिधा देती हैं।जो इन लोगों की परेशानी दूर कर देती हैं।आप अपना मनचाहा उपहार इन कंपनियोंं के जरिये अपने प्रियजनों तक आसानी से पहुंचा सकते हैं। 

राष्ट्रमंडल दिवस कब और क्यों मनाया जाता है जानिए 

यूरोपीय देशों में धूमधाम ,जोश व उत्साह से मनाया जाता है Valentine Day

यूरोपीय देशों में Valentine Day को बहुत पहले से और धूमधाम के साथ, बड़े जोश व उत्साह से मनाया जाता हैशायद क्रिसमस के बाद इसे ह़ी सबसे बडे त्यौहार के रूप में मनाया जाता हो।वहां पर लोग एक दूसरे को सबसे ज्यादा कार्डस व गिफ्ट भेजते हैं हालांकि Valentine Day का यह दिन शहादत से जुड़ा है।इसीलिए कुछ देशों में Valentine Day के दिन अवकाश भी रखा जाता है

यूरोपीय देशों में 14 फरवरी को मनाया जाने वाला यह एक पारंपरिक दिवस हैजिसमें युगल प्रेमी एक-दूसरे के प्रति अपने प्रेम का इजहार करते हैंलेकिन धीरे-धीरे यह परंपरा विश्व के अन्य देशों में भी पहुँच गयी है।अब यह दिन दुनिया के अनेक देशों में बड़े धूमधाम से मनाया जाता है।या यूँ कहें कि लोग इस दिन का बेसब्री से इंतजार करते हैं।

किसको मिलेगा 10% सवर्ण आरक्षण का लाभ ?

भारत में भी रहती है Valentine Day की धूम 

भारत में भी आजकल वैलेंटाइन डे खूब जोश के साथ मनाया जाता है।भारतीय बाजार भी अब वैलेंटाइन डे की खूब तैयारी करते हैं जिस वजह से बाजारों में काफी रौनक रहती हैं। दुकानों तरह तरह के कार्ड्स व गिफ्ट्स से भरे रहते हैं।युवा अपने दोस्तों को गिफ्ट्स देते हैं और उनके साथ समय बिताते हैं

वही कई लोग अपने प्रियजनों जैसे माता-पिता, पत्नी ,पूरे परिवार के साथ या परिवार के अन्य सदस्यों के साथ अपना समय बिताते हैंउन्हें उपहार देते हैं या कहीं बाहर घूमने का प्रोग्राम बना लेते हैं।या फिर कोई सरप्राइज पार्टी भी रख लेते हैं।कोई कार्ड भेज कर अपनी भावनाओं को व्यक्त करता है तो कोई महंगे सामान खरीद कर ,तो कोई गुलाब के महकते फूलो का तोहफा देता हैं।

जो भी हो।लेकिन लोग इस दिन का अपनी अपनी तरह से मजा लेते हैं।बदले बक्त के साथ भारत में भी इसका खूब चलन बढ़ा हैं।

विश्व परिवार दिवस कब और क्यों मनाया जाता है जानिए                                     

किसके साथ मनाया जाय Valentine Day

यूं तो वैलेंटाइन डे युगल प्रेमीयों के लिए ही माना जाता हैलेकिन प्यार तो प्यार हैं इसलिए यार दोस्तों ,परिवार, भाई, बहन, किसी के साथ भी जिसे आप प्यार करते होंया भावात्मक लगाव रखते हो और उससे अपने दिल की बात न कह पा रहे हो।उसके साथ वेलेंटाइन मनाया जा सकता हैं

अपने जीवन साथी के साथ अपने प्यार के संबंधों को मजबूत करने के लिए भी यह एक शानदार दिन हैअपने ऐसे पुराने दोस्तों के साथ जिनसे किसी कारण बस आपका मन मुटाव हो गया हो उनसे फिर से पुरानी कड़वाहट भूल कर नए सिरे से रिश्ते को जोड़ने के लिए, परिवारिक रिश्तों को मजबूत करने के लिए यह वाकई में यह एक शानदार दिन है

अलग अलग देशों में अलग अलग नाम हैं Valentine Day के 

यह दिन अलग अलग देशों में अलग अलग नाम से मनाया जाता हैं जैसे चीन में यह दिन “नाइट्स ऑफ सेवेन्स”, जापान और कोरिया में इस दिन को “वाइट डे”  के नाम से मनाया जाता है

Valentine Day gift ideas 

वैसे तो Valentine Day पर लोग पूरे सप्ताह अलग अलग दिन के हिसाब से अपने प्रिय को उपहार देते है जिनमें कार्ड ,गुलाब के फूल ,मिठाई ,चॉकलेट ,दिल ,क्यूपिड आदि उपहार सभी के  प्रिय (all time favorite) उपहार हैं।लेकिन आज के दौर में लोग अन्य वस्तुओं को भी उपहार स्वरूप भेंट कर सकते हैं ।कुछ Valentine Day gift ideas जैसे

Flowers , Flower Bunches, Greeting Cards ,Heart shape Cakes ,Gift Hampers , Photo frames ,Beautiful and designed Candles & colorful and decorated Diyas , Desk Accessories , stylish Clocks , Lamps ,  Flowers With Chocolates, Flowers With Soft Toys , Flowers With Cake ,Teddy Bears ,Jewellery ,photo printed mugs etc.और अगर आप भारत से है तो राधा कृष्ण की सुन्दर मूर्ति भी भेंट कर सकते है क्योंकि राधा कृष्ण अमर प्यार के प्रतीक है

विश्व स्वास्थ्य दिवस क्यों मनाया जाता है जानिए 

जिन्दगी का हर दिन है अनमोल 

वैसे अपने लोगों को प्यार करने के लिए, उनको अपनी भावनाओंं से अवगत कराने के लिए या अपनों के लिए कुछ भी करने के लिए साल में सिर्फ एक ह़ी दिन काफी नही हैं।अपने लोगों को आप अपनी भावनाओंं से साल के 365 दिनोंं में कभी भी अवगत करा सकते हैं। कभी भी गिफ्ट दे उन्हें स्पेशल महसूस करा सकते हैं।

लेकिन आज की दौड़ भाग भरी जिंदगी में लोग सब कुछ करते हैं लेकिन अपने प्यार को अपने लोगों को बताना ही भूल जाते हैंया इसके लिए टाइम ही नहीं होता है उनके पासइसीलिए यह दिन समर्पित है अपने चाहने वालों को , अपने करीबी लोगों को अपने प्यार का व अपनी भावनाओं का इजहार करने का।यही दिन है जब लोग अपने व्यस्त जीवन से कुछ समय निकाल कर अपने प्यार करने वालों के साथ सुकून के कुछ पल बिताते हैं।फिर चाहे वह पति, पत्नी, मां बाप ,भाई ,बहन ,प्रेमी ,प्रेमिका कोई भी क्यों न हो

Happy Valentine Day …….

You are welcome to share your comments.If you like this post Then please share it.Thanks for visiting.

यह भी पढ़ें …

क्यों मनाया जाता हैं गणतंत्र दिवस ? 

क्या हैं प्रधानमन्त्री जनधन योजना ? 

क्या हैं तीलू रौतेली विशेष पेंशन योजना ?

कहा हैं स्टैच्यु ऑफ़ यूनिटी ?

क्यों मनाई जाती हैं महाशिवरात्रि ? 

Leave a Reply

Your email address will not be published.