औपचारिक पत्र उदाहरण सहित :Example of Formal Letter

Formal Letter in Hindi

औपचारिक पत्र लेखन व उसके उदाहरण

Example of Formal Letter

औपचारिक पत्र  लेखन क्या है ? (What is Formal Letter Writing)

आमतौर पर औपचारिक पत्र किसी भी सरकारी या प्राइवेट कार्यालयों से जुड़े व्यक्तियों या अधिकारियों को लिखा जाता है।ये व्यक्ति सामान्यतया अपरिचित होते हैं। ऐसे पत्र मुख्यरूप से स्कूल के प्रधानाचार्य , सरकारी विभाग के अधिकारियों , अखबार के संपादकों के नाम  या नगर निगम के मेयर , बिजली या पानी विभाग के अधिकारियों या लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों आदि को लिखे जाते हैं।

example of Formal Letter in Hindi

इन पत्रों में भाषा बहुत ही सहज और शिष्टतापूर्ण होनी चाहिए।इन पत्रों में सिर्फ काम की बातें या समस्याओं के बारे में ही लिखा जाता है।इस तरह के पत्रों में बहुत ही सीमित शब्दों में सिर्फ समस्याओं को प्रभावशाली तरीके से लिखना आवश्यक होता है।

औपचारिक पत्र के प्रकार , प्रारूप के बारे में विस्तार से पढ़िए ? 

औपचारिक पत्र लेखन के कुछ उदाहरण

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 1. 

स्वास्थ्य खराब होने के कारण 2 दिन के अवकाश की प्रार्थना करते हुए प्रधानाचार्य को पत्र लिखें

सेवा में,

प्रधानाचार्य ,

सरस्वती पब्लिक स्कूल ,

नवाबी रोड , दिल्ली

दिनांक : 10 जनवरी 2020

विषय : अवकाश प्राप्ति हेतु पत्र

श्रीमान ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं आपके विद्यालय में कक्षा 5 का छात्र हूं। महोदय कल शाम से मुझे तेज बुखार और खाँसी हो रही है। और मेरा पूरा बदन दर्द कर रहा हैं। जिस कारण में अगले 2 दिन तक स्कूल में उपस्थित नहीं हो पाऊंगा।अत: मुझे 2 दिन का अवकाश चाहिए। 

अतः महोदय से निवेदन है कि आप मुझे दिनांक 10 जनवरी 2020 से 12 जनवरी 2020 तक दो दिन का अवकाश प्रदान करने की कृपा कीजिए ।

धन्यवाद

आपका आज्ञाकारी शिष्य

मनोज शाह

उदाहरण 2 .

 बड़ी बहन के विवाह हेतु एक सप्ताह के अवकाश की प्रार्थना करते हुए प्रधानाचार्य को पत्र लिखें

सेवा में श्रीमान ,

प्रधानाचार्य ,

शिवालिक पब्लिक स्कूल

देहरादून

दिनांक : 12 मार्च 2020

विषय : अवकाश प्राप्ति हेतु पत्र

सेवा में श्रीमान ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं आपके विद्यालय मैं दसवीं का छात्र हूं। महोदय अगले सप्ताह मेरी बड़ी बहन का विवाह होना जा रहा है।अत: मुझे एक सप्ताह का अवकाश चाहिए। 

महोदय आशा है आप मुझे दिनांक 20 मार्च 2020 से 27 मार्च 2000 20 तक का अवकाश प्रदान करने की कृपा करेंगे।

आपका आज्ञाकारी शिष्य

लक्ष्य सिन्हा

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 3.

आपका नाम कविता है और आप केंद्रीय विद्यालय की छात्रा है। आपके परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है। अतः आप छात्रवृत्ति के लिए अपने विद्यालय के प्रधानाचार्य को पत्र लिखें। 

सेवा में ,

प्रधानाचार्य ,

केंद्रीय विद्यालय ,

तराना रोड , पिथौरागढ़

दिनांक : 1 जुलाई 2020

विषय : छात्रवृत्ति हेतु प्रार्थना पत्र

श्रीमान ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं आपके विद्यालय में कक्षा 8 में पढ़ती हूं। महोदय मैं पहली कक्षा से ही हमेशा स्कूल में प्रथम आती रही हूं। इसके अलावा में स्कूल के अनेक कार्यक्रमों जैसे खेल कूद , वाद विवाद , भाषण आदि प्रतियोगिताओं में भी मैंने कई बार प्रथम स्थान प्राप्त किया है।महोदय विगत कुछ वर्षों से मेरे पिता का स्वास्थ्य खराब होने के कारण वो कारोबार में सही ढंग से ध्यान नहीं दे पा रहे हैं। जिस वजह से हमारे घर की आर्थिक स्थिति लगातार खराब होती जा रही है। अब हालात यह हैं कि वो मेरी पढ़ाई का खर्चा उठाने में भी असमर्थ हो गये हैं। 

अतः आपसे विनम्र निवेदन है कि आप मुझे छात्रवृत्ति प्रदान करने की कृपा करें। अन्यथा मेरा स्कूल व पढ़ाई दोनों ही छूट जाएंगी जिससे मेरा भविष्य अंधकार में हो जाएगा। आशा है आप मेरी इस प्रार्थना पर गंभीरता से विचार करेंगे।और मुझे निराश नही करेंगे। 

धन्यवाद

आपकी आज्ञाकारी शिष्या 

कविता 

उदाहरण 4.

विद्यालय में अधिक खेल सामग्री मंगवाने के लिए प्रधानाचार्य को प्रार्थना पत्र लिखिए। 

सेवा में ,

प्रधानाचार्य ,

केंद्रीय विद्यालय पूरनपुर ,

नई दिल्ली

दिनांक : 1 जुलाई 2020

विषय :खेल सामग्री मगांने हेतु

श्रीमान ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि हमारी क्रिकेट टीम अगले महीने होने वाले जिला स्तरीय क्रिकेट मैच में भाग लेने जा रही है। और हमारा पूरा प्रयास यह है कि जिला स्तरीय क्रिकेट प्रतियोगिता में हमारी टीम प्रथम स्थान प्राप्त करें। लेकिन महोदय हमारे खिलाड़ियों के पास क्रिकेट से संबंधित पर्याप्त सामग्री उपलब्ध नहीं है जिस कारण हम प्रतियोगिता के लिए अच्छी तरह से प्रैक्टिस नहीं कर पा रहे हैं। 

अतः महोदय से निवेदन है कि जितनी जल्दी संभव हो , हमें खेल सामग्री उपलब्ध कराने की कृपा करें। ताकि हम इस जिला स्तरीय प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त कर अपने स्कूल को गौरवानित कर सकें । 

धन्यवाद

आपका आज्ञाकारी शिष्य

गौरव सिंह

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 5.

कक्षा प्रतिनिधि बनकर कक्षा को पिकनिक पर भेजने का अनुरोध करते हुए प्रधानाचार्य को पत्र लिखिए। 

सेवा में ,

प्रधानाचार्य ,

बिरला स्कूल , नेताजी सुभाष चंद्र मार्ग ,

पश्चिम बंगाल 

दिनांक : 1 जुलाई 2020

विषय : पिकनिक पर भेजने का अनुरोध 

श्रीमान,

सविनय निवेदन इस प्रकार है मैं आपकी स्कूल में कक्षा दसवीं का छात्र हूं। और इस वक्त में अपनी कक्षा का कक्षा प्रतिनिधि भी हूं। महोदय इस पूरे साल हम कहीं भी पिकनिक पर नहीं गए और मेरे कक्षा के सभी विद्यार्थी की किसी ऐतिहासिक स्थल पर स्कूल से पिकनिक जाने की हार्दिक इच्छा है। 

अतः महोदय से मेरा विनम्र निवेदन है कि मेरी कक्षा के सभी विद्यार्थी को स्कूल की तरफ से किसी ऐतिहासिक स्थल पर पिकनिक ले जाने की व्यवस्था करने की कृपा करें।

धन्यवाद। 

आपका आज्ञाकारी शिष्य

अभिषेक यादव

उदाहरण 6.

कक्षा छठी (अ) से कक्षा छठी (ब) में अपना स्थानांतरण करवाने के लिए प्रधानाचार्य को पत्र लिखिए। 

सेवा में,

प्रधानाचार्य,

मानस स्कूल , हरिद्वार उत्तर प्रदेश

दिनांक : 17 जुलाई 2020

विषय : कक्षा में सेक्शन स्थानान्तरण का अनुरोध 

श्रीमान,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं आपके स्कूल में कक्षा 6 की छात्रा हूं। और इस वक्त मैं कक्षा 6 के “अ” सेक्शन में पढ़ रही हूं।जबकि मेरा जुड़वा भाई कक्षा 6 के ही “ब” सेक्शन में पढ़ना है। महोदय मेरे और मेरे भाई के पास एक ही सेट किताब का है जो मेरे भाई के पास रहता है।मेरे पास किताब ना होने के कारण मेरी पढ़ाई में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। 

अतः महोदय से निवेदन है कि मुझे कक्षा 6 के “अ” सेक्शन से स्थानन्तरित कर कक्षा 6 के “ब” सेक्शन में मेरे भाई के साथ  भेजने की कृपा प्रदान करें। ताकि हम दोनों भाई -बहिन एक ही किताब से आराम से पढ़ सकें।

धन्यवाद

आपकी आज्ञाकारी छात्रा

अंजना चौधरी

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 7.

विद्यालय की पत्रिका में अपनी रचना छपवाने के लिए छात्र संपादक प्रभारी को पत्र लिखिए 

छात्र संपादक ,

हरि ओम बुक्स प्रकाशन

नई दिल्ली – 111005

दिनांक : 20 अप्रैल 2020

विषय : अपनी रचनाएं विद्यालय की पत्रिका में छपवाने हेतु पत्र। 

मान्यवर ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं केंद्रीय विद्यालय में कक्षा दसवीं का छात्र हूं। और मुझे कविताऐं और कहानियां लिखने का शौक है। और मेरे पास अपनी लिखी हुई कविता और कहानियों का एक अच्छा संग्रह भी है। मान्यवर मैं चाहता हूं कि मेरे स्कूल से निकलने वाली मासिक पत्रिका में मेरी रचनाएं प्रकाशित हो।

इसीलिए मान्यवर से विनम्र आग्रह है कि मेरे विद्यालय की पत्रिका में मेरी रचनाओं को प्रकाशित करने की कृपा करें।मैं अपने द्वारा लिखी गई कुछ बेहतरीन कविताओं को इस पत्र के साथ ही आपके पास भेज रहा हूं। 

धन्यवाद। 

भवदीय

कमल बेलवाल ,

1234 -पश्चिम विहार , नई दिल्ली

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 8.

पुस्तके मंगवाने हेतु पुस्तक विक्रेता को पत्र लिखें। 

प्रकाशक ,

गीता प्रेस , नोएडा , यूपी

दिनांक : 15 अगस्त 2020

विषय :पुस्तके मंगवाने हेतु प्रार्थना पत्र

मान्यवर ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं मानस स्कूल , हरिद्वार में कक्षा आठ का छात्र हूं और मुझे आपके द्वारा प्रकाशित कुछ पुस्तकों के नवीनतम संस्करण की शीघ्र आवश्यकता है।पुस्तकों के नाम इस प्रकार हैं।

हिंदी व्याकरण भाग 1

विज्ञान कक्षा – 8 (NCERT )

 गणित कक्षा -8 (NCERT )

हिंदी व्याकरण भाग 1 -8 (NCERT )

मान्यवर , मैं इन सभी पुस्तकों का मूल्य आपको बैंक ड्राफ्ट के द्वारा भेज रहा हूं। अतः इन पुस्तकों को आप अति शीघ्र कोरियर के माध्यम से भेजने की कृपा करें।

धन्यवाद

भवदीय

विकास गोयल

जगदंबा विहार , नई दिल्ली 111021 

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 9 .

आप अपने स्कूल के क्रिकेट टीम के कप्तान हैं और आप पड़ोसी विद्यालय के साथ मैच खेलना चाहते हैं।इसकी अनुमति के लिए अपने विद्यालय के प्रधानाचार्य को एक पत्र लिखें।

सेवा में ,

प्रधानाचार्य ,

केंद्रीय विद्यालय , हिमाचल रोड (मसूरी)

दिनांक : 25  मार्च 2020

विषय : पड़ोसी स्कूल से क्रिकेट मैच खेलने हेतु प्रार्थना पत्र

महोदय ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं आपके विद्यालय में कक्षा दसवीं का छात्र हूं और साथ ही साथ अपने स्कूल की जूनियर क्रिकेट टीम का कप्तान भी हूं। महोदय हमने इस पूरे वर्ष अपने स्कूल के क्रिकेट कोच दिलीप सर से क्रिकेट का अच्छा प्रशिक्षण लिया है। और हम लगातार अपने खेल को सुधारने के लिए कड़ी मेहनत भी कर रहे हैं। महोदय , हमें अपने पड़ोसी स्कूल सेंट जेवियर की क्रिकेट टीम से मैच खेलने से उनके साथ मैच खेलने का आमंत्रण मिला है।और हमारी पूरी क्रिकेट टीम की हार्दिक इच्छा है कि हम यह मैच खेलें। 

अतः आपसे निवेदन है कि आप हमें सोमवार दिनांक 10 अप्रैल 2020 को सेंट जेवियर स्कूल के साथ मैच खेलने की अनुमति प्रदान करें। हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि हम यह खेल जीतकर अपने विद्यालय का नाम रोशन करेंगे। आशा है आप हमारी इस प्रार्थना को अवश्य स्वीकार करेंगे और हमें जाने की अनुमति प्रदान करेंगे।

धन्यवाद

आपका आज्ञाकारी शिष्य

कमल सामला (कप्तान क्रिकेट टीम )

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 10 .

छात्राओं के लिए स्कूल में अलग शौचालय की व्यवस्था हेतु प्रधानाचार्य को एक पत्र लिखें। 

प्रधानाचार्य ,

नैनी वैली स्कूल ,

पड़पड़गंज रोड , मुरादाबाद , उत्तर प्रदेश

दिनांक : 25  मार्च 2020

विषय : छात्राओं के लिए स्कूल में अलग शौचालय की व्यवस्था हेतु

महोदय ,

मैं आपके स्कूल में कक्षा दसवीं का छात्रा हूं। महोदय हमारे स्कूल में छात्राओं की संख्या बहुत अधिक है। और स्कूल में छात्राओं के लिए अलग से शौचालयों की व्यवस्था नहीं है।स्कूल में सिर्फ दो शौचालय हैं जिनको छात्र और छात्राएं दोनों ही इस्तेमाल करते हैं। जिस कारण कई बार छात्राओं को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

अतः महोदय से विनम्र निवेदन है कि वह स्कूल में छात्राओं के लिए दो अलग से शौचालय को  बनाने की कृपा करें। ताकि छात्रायें आये दिन होने वाली परेशानियों से बच सकें। मुझे पूर्ण आशा है कि शीघ्र ही स्कूल की छात्राओं को अलग से शौचालय मिल जाएंगे।

धन्यवाद

आपकी आज्ञाकारी शिष्य

सपना मुखर्जी

उदाहरण 11.

अपने मोहल्ले में बिजली संकट बढ़ने हेतु बिजली अभियंता को पत्र लिखें।

सेवा में,

मुख्य अभियंता,

बिजली विभाग , नैनीताल रोड

अल्मोड़ा

दिनांक : 10 जनवरी 2020

विषय : मोहल्ले में बिजली संकट बढ़ने हेतु

 श्रीमान ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं विकास नगर ,गली नंबर-17 , अल्मोड़ा में रहता हूं। महोदय हमारे मोहल्ले में कुछ समय से लगातार बिजली की समस्या चली आ रही है। दिन में कई-कई घंटे  बिजली नहीं रहती है और कई बार तो रात भर भी बिजली नहीं आती हैं। गर्मी भी लगातार बढ़ती जा रही हैं जिस कारण लोगों को अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा हैं।

महोदय मैं खुद दसवीं क्लास का छात्र हूं और अगले महीने से मेरी बोर्ड की परीक्षाएं शुरू होने वाली  हैं। बिजली ना होने के कारण मैं ठीक से पढ़ाई नहीं कर पा रहा हूं।और मेरे मोहल्ले में मेरे जैसे अनेक बच्चे हैं जिनकी बोर्ड की परीक्षाएं शुरू होने वाली हैं। 

 अतः महोदय से विनम्र निवेदन है कि जल्दी से जल्दी अपने किसी लाइनमैन को भेजकर हमारे मोहल्ले की बिजली की लाइन को ठीक करने की कृपा करें। ताकि मैं और मेरे जैसे अनेक बच्चे अपनी बोर्ड की परीक्षा की तैयारी आराम से कर सकें। 

धन्यवाद

भवदीय

किशन बिष्ट

विकासनगर , अल्मोड़ा

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 12.

बस कंडक्टर के सहानुभूतिपूर्ण और विनम्र व्यवहार की प्रशंसा करते हेतु परिवहन निगम के प्रबंधक को औपचारिक पत्र लिखिए। 

सेवा में  ,

प्रबंधक , परिवहन निगम

दिल्ली -140020 

दिनांक : 25 फरवरी 2020

विषय :बस कंडक्टर की प्रशंसा करते हेतु

 श्रीमान,

मैं दिल्ली परिवहन निगम की बस संख्या-405 से रोज अपने स्कूल जाता हूं और अक्सर उसी बस से वापस घर आता हूं। इस बस के कंडक्टर श्री दयाल सिंह चौधरी जी बहुत ही समझदार , विनम्र व नेक इंसान हैं। वो बस में बैठने वाले प्रत्येक व्यक्ति का ध्यान रखते हैं। बुजुर्ग व महिलाओं को सीट देने का हर संभव प्रयास करते हैं।उनका व्यवहार सभी के प्रति सहानुभूति पूर्ण रहता है। 

बस में चाहे कितनी भी भीड़ क्यों न हो या उनके सामने कोई भी समस्या क्यों ना खड़ी हो। कंडक्टर श्री दयाल सिंह चौधरी जी हर वक्त मुस्कुराते हुए यात्रियों का स्वागत करते हैं और यात्रियों की समस्याओं को सुलझाने का हर संभव प्रयास करते हैं। मैं खुद उनका प्रशंसक बन गया हूं।

धन्यवाद। 

जीवन नेगी

नोएडा 

उदाहरण 13.

कक्षा नवी से बारहवीं तक पाठ्यक्रम में कटौती हेतु दिए गए दिशा-निर्देशों के लिए शिक्षा मंत्रालय को पत्र लिखिए। 

सेवा में  ,

शिक्षा मंत्री

शिक्षा मंत्रालय , नवाबगंज रोड

देहरादून (उत्तराखंड)

दिनांक :15 मार्च 2020

विषय : नौवीं से बारहवीं तक के पाठ्यक्रम में बदलाव के संदर्भ में। 

 श्रीमान,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं केंद्रीय विद्यालय, देहरादून में दसवीं कक्षा का छात्र हूं। महोदय , आप द्वारा दिए गये दिशा निर्देशों के अनुसार कक्षा 9 से कक्षा 12 तक के पाठ्यक्रम में कुछ बदलाव किया गया है जिसकी जानकारी मुझे नहीं है। मैं अपने नए पाठ्यक्रम को जानने के लिए काफी उत्सुक हूं।और उसी के हिसाब से अपनी आगे की पढ़ाई करना चाहता हूं।

अतः महोदय से विनम्र निवेदन है कि मुझे और मेरी कक्षा के अन्य बच्चों को अतिशीघ्र नए पाठ्यक्रम के बारे में जानकारी प्रदान करने की कृपा करें।

धन्यवाद। 

 भवदीय

यशराज , देहरादून

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 14.

बस चालकों की असावधानी से हो रही दुर्घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए किसी समाचार पत्र के संपादक को पत्र लिखिए। 

  सेवा में ,

प्रधान संपादक ,

अमर उजाला , बरेली रोड , हल्द्वानी (नैनीताल)

दिनांक :10 मई 2020

विषय : बस चालकों की असावधानी से हो रही दुर्घटनाओं पर ध्यान आकर्षित करने हेतु। 

 मान्यवर ,

मैं आपके समाचार पत्र अमर उजाला का नियमित पाठक हूँ। और आज मैं आपके समाचार पत्र के माध्यम से लोगों का ध्यान हमारे शहर में बढ़ती हुई दुर्घटनाओं की ओर आकर्षित करना चाहता हूँ। मान्यवर बस चालकों की असावधानी से शहर में लगातार दुर्घटनाओं बढ़ती जा रही हैं और इन दुर्घटनाओं में हर रोज या तो लोग अपनी जान गँवा रहे हैं या घायल हो रहे हैं।

इन दुर्घटनाओं का मुख्य कारण हैं सिटी बस चालकों का असावधानी से बसों को चलाना। अक्सर बस चालक सड़क के नियम कानूनों को ताक पर रखकर मनमाने ढंग से बस चलाते हैं। कई बार तो ये चालक शराब के नशे में भी होते हैं। भीड़भाड़ वाले इलाकों में मोबाइल फोन पर बात करते हुए बस चलाना तो आम बात हैं। और कभी-कभी ये लोग छोटे वाहनों को गलत तरीके से ओवरटेक करने की कोशिश करते हैं जिस वजह से दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं। पता नहीं क्यों शहर का पुलिस प्रशाशन भी मौन साधे हैं। 

  मान्यवर , अब समय आ गया हैं पुलिस प्रशाशन के नींद से जागने का। और जो बस चालक मनमाने ढंग से बसों को चलाते हैं  या ट्रैफिक के नियमों का पालन नहीं करते। उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए। ताकि इनकी असावधानी से किसी और को जान ना गवाँनी पड़े और दुर्घटनाओं पर भी लगाम लगे।

धन्यवाद।

भवदीय

भजन लाल 

हल्द्वानी 

उदाहरण 15. 

शहर में महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराधों को रोकने के लिए पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखिए। 

 सेवा में  ,

पुलिस अधीक्षक ,

मुरादाबाद , उत्तर प्रदेश

दिनांक :10 मई 2020

विषय : महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराधों को रोकने हेतु।

महोदय ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि हमारे शहर मुरादाबाद में लगातार असामाजिक तत्वों के द्वारा महिलाओं के साथ छेड़छाड़ , लूटपाट और गाली गलौज की घटनाएं आम होती जा रही हैं। इन असामाजिक तत्वों को अब पुलिस प्रशासन का भी डर नहीं रहा है। वो खुलेआम महिलाओं के साथ छेड़छाड़ व अभद्र व्यवहार करते हैं जिस कारण महिलाओं का बाजार या शहर में निकलना कठिन हो गया है।अब महिलायें जरूरी कामों के लिए भी घर से बाहर निकलने से कतरा रही हैं।

अतः महोदय से सविनय निवेदन है कि इन असामाजिक तत्वों पर लगाम लगाने के लिए कठोर से कठोर कार्रवाई करें तथा महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़े कदम उठाएं। ताकि महिलाएं अपने को सुरक्षित महसूस कर सकें। और घर से बाहर निकल कर अपने जरूरी काम निपटा सकें।

धन्यवाद।

मोहनी सागर ,

मुरादाबाद (उत्तर प्रदेश )

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 16. 

कोविड-19 के कारण सरकार द्वारा घोषित किए गए लाँक डाउन पर जरूरतमंदों की सहायता करने की अनुमति हेतु थानाध्यक्ष को एक पत्र लिखिए। 

सेवा में ,

थाना अध्यक्ष ,

रामपुर

दिनांक : 20 मार्च 2020

विषय : जरूरतमंद की सहायता हेतु अनुमति। 

महोदय ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि कोविड-19 के कारण सरकार ने 25 मार्च 2020 से पूरे देश में लॉकडाउन घोषित कर दिया है। अचानक हुए इस लॉकडाउन की वजह से शहर में कई गरीब व मजदूर लोगों के पास दो वक्त का खाना भी उपलब्ध नहीं है। जिस कारण वो और उनका परिवार भूखे पेट सोने को मजबूर हैं। इन परिवारों में छोटे-छोटे बच्चे भी हैं जो भूख के कारण बिलख रहे हैं। 

 महोदय , हमारी संस्था “आस्था महिला समूह” ऐसे जरूरतमंद लोगों को खाना और जरूरी सहायता पहुंचाना चाहती हैं। लेकिन लॉकडाउन की वजह से हम उन जरूरतमंदों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं।

इसीलिए आपसे विनती है कि आप हमें उन जरूरतमंदों को भोजन , पानी और अन्य जरूरी सहायता पहुंचाने की विशेष अनुमति प्रदान करें। ताकि उनकी बुनियादी जरूरत पूरी हो सके। उम्मीद है आप हमारे इस निवेदन को स्वीकार करेंगे और हमें उन लोगों की सेवा का मौका देंगे। 

धन्यवाद। 

आस्था महिला समूह

रामपुर

उदाहरण 17. 

अस्पताल में फैली अव्यवस्था पर अस्पताल प्रबंधक को एक पत्र लिखें। 

 सेवा में  

 अस्पताल प्रबंधन 

कविमला तिवारी हॉस्पिटल

नोएडा

 महोदय  ,

मैं आपका ध्यान आपके अस्पताल में फैली अव्यवस्थाओं की ओर दिलाना चाहता हूं। महोदय मेरे पिताजी पिछले एक सप्ताह से निमोनिया से ग्रसित होने के कारण आपके अस्पताल में भर्ती हैं। और मैं अपने पिता की देखभाल के लिए उनके साथ इस अस्पताल में ठहरा हूं।

महोदय आपका अस्पताल शहर के नामी अस्पतालों में से एक है। लेकिन अस्पताल की व्यवस्था बिल्कुल भी ठीक नहीं है। कर्मचारियों व नर्सों का व्यवहार मरीजों के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं है। ऊपर से आए दिन अस्पताल के कर्मचारी किसी ने किसी मरीज के साथ दुर्व्यवहार करते हुए नजर आ ही जाते हैं।

अस्पताल में साफ सफाई की भी उचित व्यवस्था नहीं है। हर रोज साफ सफाई अस्पताल में जरूरी है लेकिन आपके अस्पताल में हर रोज ना साफ सफाई होती हैं  और न ही बिस्तरों की चादरें बदली जाती हैं। अस्पताल का शहर में जितना बड़ा नाम है अस्पताल में आने के बाद “ऊंची दुकान , फीका पकवान ” कहावत याद आने लगती हैं।

अतः महोदय आप अपने अस्पताल की व्यवस्था में अवश्य ध्यान दीजिए। कर्मचारियों का व्यवहार मरीजों के प्रति विनम्र व सहानभूतिपूर्ण रहे। यह सुनिश्चित करिए। अस्पताल में नियमित साफ-सफाई और अन्य व्यवस्थाएं भी सुचारू रूप से चलें। ताकि अस्पताल ज्यादा से ज्यादा लोगों की सेवा कर सके और मरीज स्वस्थ व खुश होकर घर जा सके।

धन्यवाद।

साहिल जोशी

Example Of Formal Letter in Hindi

उदाहरण 18. 

बिजली पानी का बिल माफ करने हेतु मुख्यमंत्री को पत्र लिखें

सेवा में ,

मुख्यमंत्री महोदय

उत्तराखंड। 

दिनांक :10 जुलाई 2020

विषय : बिजली पानी का बिल माफ करने हेतु

महोदय ,

सविनय निवेदन इस प्रकार है कि कोविड-19 के कारण पूरे शहर में लॉक डाउन हो गया। जिस वजह से मेरा व्यवसाय पूरी तरह से प्रभावित हुआ है और मेरी आर्थिक स्थिति भी लगातार खराब होती जा रही है।अब में अपने घर का जरूरी खर्च चलाने व अपने बच्चों का भरण पोषण करने में भी असमर्थ होता जा रहा हूं। ऐसे हालात में बिजली , पानी का बिल भर पाना मेरे लिए अत्यधिक कठिन हो गया है।

महोदय जब तक शहर में लॉक डाउन खत्म नहीं हो जाता और दुकानें दुबारा नहीं खुल जाती। तब तक मेरा बिजली व पानी का बिल माफ करने की कृपा करें। आप मुझ पर विश्वास रखिए एक बार व्यापार शुरू हो जाए तो मैं बिजली व पानी का बिल नियमित समय में जमा करूंगा।   मुझे आशा ही नहीं वरन पूर्ण विश्वास है कि महोदय मेरा बिजली और पानी का बिल अवश्य माफ करेंगे।

धन्यवाद।

अनीश जोशी , नैनीताल

उदाहरण 19. 

डी.पी.एस , गुलाबी बाग स्कूल के प्रधानाचार्य को उस स्कूल में प्रवेश लेने हेतु एक प्रार्थना पत्र लिखिए। 

सेवा में ,

प्रधानाचार्य महोदय ,

डीपीएस गुलाबी बाग ,

नई दिल्ली

दिनांक -10 अगस्त 2020

विषय – प्रवेश विषयक निवेदन पत्र

महोदय ,

सादर विनम्र निवेदन है कि मेरे पिताजी , जो कि आगरा में भारतीय रेलवे में इंजीनियर के पद पर कार्यरत हैं। उनका स्थानांतरण नई दिल्ली में हो गया है। अब मेरा परिवार दिल्ली में निवास कर रहा है। इसीलिए मैं डी.पी.एस. गुलाबी बाग में कक्षा 10 में प्रवेश लेना चाहता हूं।

महोदय आपसे निवेदन है कि मुझे अपने विद्यालय में प्रवेश की अनुमति प्रदान करने की कृपा करें। धन्यवाद।

आपका आज्ञाकारी शिष्य

रत्नाकर

औपचारिक पत्र लेखन के उदाहरण : Example of Formal Letter in Hindi

YouTube channel  से जुड़ने के लिए इस Link में Click करें।

YouTube channel link (Padhai Ki Batein / पढाई की बातें )

You are most welcome to share your comments . If you like this post . Then please share it . Thanks for visiting.

यह भी पढ़ें……

मानवीय करुणा की दिव्य चमक के प्रश्न व उनके उत्तर 

सूरदास के पद (प्रश्न व उनके उत्तर )

Letter Writing in Hindi 

अनौपचारिक पत्रों के 10+ उदाहरण पढ़ें

Essay On Online Education

Essay On My Favourite NewPaper

Essay On Importance Of Television 

मेरी प्रिय बसंत ऋतु  पर निबन्ध 

My Favorite Game Essay 

Essay On My Village 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *