प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना क्या है?जानिए इसके लाभ।

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana 

What is Pradhan Mantri Saubhagya Yojana ?प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना क्या है ? “सहज बिजली हर घर योजना” में कैसे और किसको मिलेगा लाभ in Hindi.

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana

हमारे देश को आजाद हुए 70 साल से ऊपर हो चुके हैं।और इन सालों में देश ने कई क्षेत्रों में उल्लेखनीय सफ़लता हासिल की हैं।एक ओर जहाँ कुछ लोगों के जीवन स्तर में काफी बदलाव आया हैं तो वही दूसरी ओर एक तबका ऐसा भी हैं जो बिजली ,पानी जैसी बुनियादी सुबिधाओं से महरूम हैं।

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana

अब इसी तबके की तरफ सरकार का ध्यान गया हैं। इसीलिए अब इनके हितों को ध्यान में रख कर सरकार ने कई योजनाओं की शुरुवात की हैं उन्ही में से एक हैं “प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना “या “सहज बिजली हर घर योजना” या “Pradhan Mantri Saubhagya Yojana”।

क्या है प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना ? (What is Pradhan Mantri Saubhagya Yojana)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार द्वारा गरीब व निचले तबके के लगभग 4 करोड़ से ज्यादा घरों को बिजली से रोशन करने के लिए प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना की शुरुआत 25 सितंबर 2017 को पंडित दीनदयाल उपाध्याय जयंती के शुभ अवसर पर की थी।और सरकार ने हर घर में बिजली पहुचांने के अपने सपने को साकार करने के लिए “सहज बिजली हर घर योजना”को पूरा करने का लक्ष्य 31 मार्च 2019 तक रखा गया है।

वर्तमान समय में हमारे देश में लगभग 73.38% घरों में बिजली के कनेक्शन है।वैसे तो हमारे देश में लगभग 4 करोड़ घर ऐसे हैं जिसमें बिजली का कनेक्शन नहीं है।लेकिन शहर के बजाय ग्रामीण क्षेत्रों (खासकर दूरस्थ व दुर्गम पहाड़ी क्षेत्रों में) में यह समस्या ज्यादा बड़ी हैं।और इन क्षेत्रों में बिजली पहुचाना भी कठिन कार्य हैं।प्रधानमन्त्री के इस कदम से वहां के लोगों में उम्मीद जरुर जागी हैं।

क्या हैं प्रधानमन्त्री स्टार्टअप एंड स्टैंडअप योजना ? 

किसको मिलेगा प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना का फायदा (Eligibility of Pradhan Mantri Saubhagya Yojana)

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने देश के हर घर तक बिजली पहुंचाने के लिए “सहज बिजली हर घर योजना यानी सौभाग्य योजना” की शुरूवात तो की हैं लेकिन इस योजना में उन लोगों को ह़ी मुफ्त में बिजली कनेक्शन का फायदा मिलेगा जिन लोगों का नाम साल 2011 की “सामाजिक आर्थिक जनगणना” में है।

लेकिन जिन लोगों का नाम “सामाजिक आर्थिक जनगणना” में नहीं है उन्हें बिजली का कनेक्शन 500/-रूपये के शुल्क पर मिल सकता है। ऐसे लोग यह 500/-रुपया भी 10 आसान किस्तों में चुका सकते हैं।

प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना (Pradhan Mantri Saubhagya Yojana )के अनुसार देश के जिन इलाकों में अभी तक बिजली किसी प्राकृतिक व भौगोलिक कारणवश नहीं पहुंची है वहां पर सरकार की तरफ से हर घर को एक “सोलर पैक” दिया जायेगा जिसमें पांच एलईडी बल्ब और एक पंखा, एक डीसी पावर प्लग होगा और 5 वर्ष तक इन उकरणों की मरम्मत का खर्च सरकार उठाएगी।इस योजना को सुचारू रूप से चलाने की जिम्मेदारी “ग्रामीण विद्युतीकरण निगम” की है।

 क्या है अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति योजना?जानिए 

प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना का बजट (Budget of Pradhan Mantri Saubhagya Yojana)

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana के लिए सरकार ने बिजली से वंचित देश के चार करोड़ घरों के हिसाब से 16,320 करोड रुपए का कुल बजट रखा है।जिसमें सरकार की ओर से 12,320 करोड रुपए की सरकारी सहायता का भी प्रावधान किया है।यानी सौभाग्य योजना के तहत चयनित मुख्य प्रदेशों में भारत सरकार 85% राशि देगी जबकि 5% राज्य सरकार और बाकी 10% बैंक से कर्ज लिया जाएगा।

और सामान्य प्रदेशों में भारत सरकार 60% राशि देगी जबकि 10% राज्य सरकार और बाकी 30% बैंक से कर्ज लिया जाएगा।इसमें ग्रामीण क्षेत्रों के लिए 14,025 करोड रुपए और शहरी क्षेत्रों के लिए 50 करोड़ की व्यवस्था हैं।

क्या हैं प्रधानमन्त्री आयुष्मान भारत योजना ? 

प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना का मुख्य उद्देश्य (Aim of Pradhan Mantri Saubhagya Yojana)

  • प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना का मुख्य उद्देश्य देश के हर शहर, हर गांव ,हर घर में बिजली पहुँचाना है।सरकार ने 31 मार्च 2019 तक इस योजना को पूरा करने का लक्ष्य रखा है।
  • लोगों को बिजली कनेक्शन आसानी से उपलब्ध कराना हैं।
  • निचले तबके व गरीब लोगों को बिजली का कनेक्शन मुफ्त व आसानी से उपलब्ध कराना है।
  • सरकार हर व्यक्ति के घर पर जाकर बिजली कनेक्शन देने की पहल कर करेगी है।ताकि उनको बिजली कनेक्शन के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर न लगाने पडे।
  • Pradhan Mantri Saubhagya Yojana के जरिए सरकार रोजगार के अवसर बढ़ाना चाहती है।
  • मिट्टी के तेल का विकल्प बिजली को बनाना।
  • डिजिटल इंडिया के अभियान को भी को भी बढ़ावा मिलेगा क्योंकि इसमें लोग मोबाइल ऐप व वेब पोर्टल के जरिए अपना रजिस्ट्रेशन करेंगे।
  • डिजिटल इंडिया के अभियान से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ना ताकि लोगों को सरकारी योजनाओं की जानकारी सही व जल्द मिल सके।साथ ह़ी साथ मोबाइल, रेडियो और टेलीविजन के जरिये शिक्षा,स्वास्थय ,रोजगार,कृषि से संबंधित जानकारियों को भी हासिल कर पायेगें।

प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना के तहत चयनित मुख्य प्रदेश 

  • उत्तर प्रदेश
  • मध्य प्रदेश
  • बिहार
  • उड़ीसा
  • राजस्थान
  • झारखंड
  • जम्मू-कश्मीर
  • पूर्वोत्तर के राज्य

क्या हैं गोल्ड सेविंग अकाउंट  ? 

क्या होगें प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना के और फायदे (Benefits of Pradhan Mantri Saubhagya Yojana)

  • Pradhan Mantri Saubhagya Yojana से महिलाओं के जीवन स्तर में निश्चित रूप से सुधार होगा।अंधेरे में घर से बाहर निकलने वक्त असुरक्षा की भावना थोड़ी कम होगी।
  • 31 मार्च 2019 तक देश के सभी गांवों के हर घर तक बिजली पहुँच जायेगी।
  • प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना के तहत ट्रांसफार्मर, मीटर्स और तारों के लिए भी सब्सिडी प्रदान की जायेगी।
  • जिन इलाकों में फ़िलहाल बिजली नहीं पहुचाई जा सकती हैं उस जगह के लोगों को एक “सोलर पैक” दिया जायेगा जिसमें एक एलईडी लाइट,एक डीसी पंखा, एक डीसी पावर प्लस होगा और इन सामानों के खराब होने पर इसकी मरम्मत का खर्चा 5 वर्ष तक सरकार उठाएगी।
  • बिजली कनेक्शन के लिए हर गांव में कैंप लगाए जाएंगे और जहाँ पर लोग तत्काल बिजली के कनेक्शन के लिये अप्लाई कर सकेगें।ताकि लोगों को बेबजह परेशनियों का सामना न करना पड़े।

जानिए.. किसको मिलेगा 10% सवर्ण आरक्षण का लाभ ?

  • Pradhan Mantri Saubhagya Yojana से गांव के युवाओं के लिए रोजगार के मौके बढ़ेंगे।
  •  जिन लोगों का नाम “सामाजिक आर्थिक जनगणना” में नहीं है उन्हें बिजली का कनेक्शन 500/-रूपये के शुल्क पर मिल सकता है। ऐसे लोग यह 500/-रुपया भी 10 आसान किस्तों में चुका सकते हैं।
  • बिजली बिल के लिए स्मार्ट और पेड मीटर लगेगा।
  •  इससे पर्यावरण संबंधी समस्याओं में कमी आयेगी।
  • शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति सुधरेगी।
  • लोग बिजली से चलने वाले उपकरणोंं(जैसे मोबाइल,रेडियो और टेलीविजन आदि) का प्रयोग कर सकेंगे।
  • डिजिटल इंडिया अभियान को बढ़ावा मिलेगा।
  • आर्थिक गतिविधियां और रोजगार के अवसर में वृद्धि होगी।
  • सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना अभी तक सरकार ने 59,82,386 घरों में बिजली पहुंचा दी है लेकिन अभी भी 3,20,45,929 घरों तक पहुचानी बाकी है।
  • उत्तर प्रदेश में UPPCL ने प्रीपेड मीटर की शुरुवात की हैं।इन प्रीपेड मीटर को रिचार्ज कराने के लिए 50/-रूपये खर्च करने होगें।

क्या है प्रधानमंत्री मुद्रा योजना जानिए 

प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना से जुड़ने के लिए जरुरी दस्तावेज (Pradhan Mantri Saubhagya Yojana Documents )

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana से व्यक्ति को लाभ लेने के लिए कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता है जैसे आधार कार्ड, वोटर आईडी, मोबाइल नंबर, बैंक खाता, ड्राइविंग लाइसेंस।

क्या हैं इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक ? 

वेब पोर्टल व मोबाइल ऐप (Pradhan Mantri Saubhagya Yojana Mobile App )

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana से जुडे वेबपोर्टल http://saubhagya.gov.in को 16 नवम्बर 2017 को लाँच किया गया।इस योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति वेब पोर्टल की मदद लेकर बिजली कनेक्शन के लिए अपना नाम रजिस्टर करवा सकता है।साथ ह़ी साथ समय-समय पर इस वेब पोर्टल पर जाकर अपने बिजली कनेक्शन से सम्बन्धित जानकारी प्राप्त कर सकता है।

हेल्थ एंड वर्किंग कंडीशन बिल 2019 क्या है जानें  विस्तार से ?

इसके साथ ह़ी विभाग ने एक मोबाइल ऐप भी लाँच किया है।जिसके जरिए भी लोग अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।अगर आप मोबाइल ऐप के जरिए अपना रजिस्टेशन करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना के ऐप को अपने मोबाइल में डाउनलोड करना होगा।और उसमें दिए गए निर्देशानुसार एक फॉर्म को भरकर सबमिट करना होगा। जिसके बाद बिजली के कनेक्शन के लिये आपका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

बिहार में सबसे अच्छा प्रदर्शन

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana का सबसे ज्यादा फायदा बिहार वालों को हुआ है यहाँ लगभग 93% घरों में बिजली के कनेक्शन लग चुके हैं सिर्फ 7 घरों में ही बिजली के कनेक्शन देने बाकी हैं।इसके विपरीत उत्तप्रदेश में परिणाम बेहद ख़राब हैं।

क्या हैं प्रधानमन्त्री उज्ज्वला योजना ?  

ONGC भी करेगी सहयोग 

प्रधानमन्त्री द्वारा शुरू की गई स्टार्टअप एंड स्टैंडअप योजना में नये व युवा लोगों के बेहतरीन व नये इनोवेशन्स को बढ़ावा दिया जाता हैं।ONGC कंपनी की ओर से स्टार्टअप के लिए भी बड़ा फंड रखा गया है।ताकि ऐसे युवाओं को आर्थिक सहायता देकर प्रोत्साहित किया जाय जिनकी इस क्षेत्र में रूचि हो और जो अपने बेहतरीन आयडिया से ऐसे बिजली के उपकरण तैयार कर सकें जो लोगों के घरेलू काम में आयें और जिनमें बिजली की खपत भी कम हो।

स्किल डेवलपमेंट ट्रेंनग प्रोग्राम

प्रधानमन्त्री सौभाग्य योजना को बेहतर ढ़ंग से चलने के लिए व लोगों की रोजगार से जुडी समस्याओं को दूर करने के लिए तथा लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए, प्रशिक्षित व्यक्तियों की जरूरत को पूरा करने के लिए केंद्रीय मंत्री आरके सिंह द्वारा “स्किल डेवलपमेंट ट्रेंनिग प्रोग्राम” भी शुरू किया गया है।इस प्रोग्राम को 6 प्रदेशों (उत्तर प्रदेश, बिहार,मध्य प्रदेश, उड़ीसा, झारखंड और असम) में चलाया जाएगा।कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय भी इसमें मदद करेगा।

Pradhan Mantri Saubhagya Yojana Website  

https://saubhagya.gov.in

You are welcome to share your comments.If you like this post Then please share it.Thanks for visiting.

यह भी जानें …

क्या है प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना?जानिए 

क्या हैं प्रधानमन्त्री कौशल भारत योजना ?

क्यों मनाया जाता हैं गणतंत्र दिवस ?

प्रधानमन्त्री द्वारा शुरू की गई सरकारी योजनाओं की सूची ? 

अमीरों को क्यों पसंद हैं बिच्छू धास से बनी चाय ?

लोहड़ी एक शानदार पर्व ?

कटारमल सूर्य मंदिर ,उत्तराखंड का एक प्रसिद्द धार्मिक स्थल ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.