Pradhan Mantri Mudra Yojana के नियम व शर्तें क्या है।

What is Pradhan Mantri Mudra Yojana (PMMY) ?,What is Pradhan Mantri Mudra Yojana ,aim and benefits of Pradhan Mantri Mudra Yojana , Mudra Loan.प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) क्या है।और क्या है इस योजना के नियम व शर्तें। 

Pradhan Mantri Mudra Yojana

कई लोग अपना खुद का व्यापार शुरू करना चाहते है लेकिन पैसा उनके सपने में बाधा बन जाता है।लेकिन अब प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के जरिए वो अपने इस सुनहरे सपने को हकीकत में बदलने की शुरुआत कर सकते है।क्योंकि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) में कोई भी व्यक्ति 50,000 रुपए से लेकर 10 लाख रुपए तक का लोन मुद्रा बैंक से आसान सी शर्तें में प्राप्त कर अपने व्यापार की शुरुआत कर सकता है।

Pradhan Mantri Mudra Yojana

जानिए क्यों मनाया जाता है दीपावली का त्यौहार?

प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक योजना (PMMY) की शुरुआत

भारत सरकार के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने वर्ष 2015-16 का बजट प्रस्तुत करने वक्त मुद्रा बैंक को स्थापित करने की घोषणा की थी।इसके बाद 8 अप्रैल 2015 को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने मुद्रा बैंक का विधिवत उद्घाटन किया।केंद्र सरकार ने इस योजना के लिए 20 हजार करोड़ का बजट रखा है।इसके साथ ही इसमें तीन हजार करोड़ रुपए की क्रेडिट गारंटी भी रखी गई है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना ,मुद्रा बैंक के तहत एक योजना है।जिसका मकसद छोटे-छोटे लघु एवं कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देना, लोगों को स्वरोजगार के लिए प्रोत्साहित करना तथा रोजगार के नए अवसरों को पैदा करना।

जम्मू कश्मीर में लगाई गई धारा 370 क्या है ?

क्या है प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (MUDRA)

(What is Pradhan Mantri Mudra Yojana)

छोटे उद्यमियों/ व्यापारियों को आर्थिक सहायता देने हेतु बनाई गई Pradhan Mantri Mudra Yojana का  पूरा नाम है “माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी यानी Micro Units Developments Refinance Agency (MUDRA/ मुद्रा)” है।

क्या है प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का उद्देश्य( Aim of Pradhan Mantri Mudra Yojana)

छोटे व कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए बनाई गई Pradhan Mantri Mudra Yojana के दो मुख्य उद्देश्य हैं।

  1. आसानी से लोन देकर छोटे व्यापारियों को स्वरोजगार के लिए प्रेरित करना और
  2. रोजगार के नए अवसरों को पैदा करना।यानी नवयुवकों या छोटे व्यापारियों को आसानी से व कम ब्याज दर पर वित्तीय सहायता प्रदान कर उन्हें स्वयं का कारोबार करने के लिए प्रोत्साहित करना। 

विश्व स्वास्थ्य दिवस क्यों मनाया जाता है ?

 मुद्रा योजना (PMMY) की विशेषता (Special Feature of Pradhan Mantri Mudra Yojana)

  • अर्थव्यवस्था में छोटे व्यापारियों की महत्वपूर्ण भूमिका को देखते हुए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लोगों को अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए छोटी रकम का लोन दिया जाता है।इस योजना के तहत छोटे उद्यमियों/व्यापारियों को कम ब्याज दर पर 50 हजार से 10 लाख रुपए तक का कर्ज दिया जाएगा।
  • केंद्र सरकार Pradhan Mantri Mudra Yojana में 20 हजार करोड़ लगाएगी।इसके साथ ही इसमें तीन हजार करोड़ रुपए की क्रेडिट गारंटी भी रखी गई है।
  • मुद्रा बैंक, माइक्रो फाइनेंस इंस्टिट्यूशन (छोटे-छोटे वित्तीय संस्थान) को री-फाइनेंस करेगी।ताकि वे प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत छोटे उद्यमियों को लोन आसानी से दे सकें।
  • छोटे एवं लघु उद्योगों और व्यापारियों को वित्तीय सहयोग प्रदान करने वाली छोटी वित्तीय संस्थाओं को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना पूरी तरह से सहयोग करेगाइसके लिए मौजूदा सभी छोटी वित्तीय संस्थाओं को पंजीकृत कराया जाएगा। 
  • लोन लेने वाले लाभार्थी व्यक्ति को एक मुद्रा कार्ड दिया जाता है ताकि जरूरत पड़ने पर उसका उपयोग कर सकें।

लोकपाल व लोकायुक्त कानून की क्या है खासियत ?

क्या है मुद्रा कार्ड (What is Mudra Card)

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) के मुद्रा बैंक से लोन लेने वाले लाभार्थी व्यक्ति को एक मुद्रा कार्ड अवश्य दिया जाता है।यह एक तरह का डेबिट कार्ड है।और इसका इस्तेमाल एटीएम(ATM) की तरह ही किया जाता है।

मुद्रा लोन लाभार्थी इस कार्ड की मदद से आसानी से जरूरत पड़ने पर कहीं से भी और कभी भी ,पैसे की निकासी आराम से कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) में तीन प्रकार के लोन( Pradhan Mantri Mudra Loan Yojana)

Pradhan Mantri Mudra Yojana में बैंक से कर्ज लेने वाले व्यापारियों को तीन भागों में बांटा गया है।पहले वो व्यापारी जो अपना व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं।दूसरा मध्य स्थिति में कर्ज लेने वाले व्यापारी और तीसरा  ऐसे व्यवसाय़ी जो अपना व्यापार बढ़ाने के लिए बैंक से लोन लेना चाहते हैं।

  • शिशु लोन – इस योजना में शिशु लोन के तहत 50 हजार रुपए तक के कर्ज दिए जाते हैं।
  • किशोर लोन- किशोर लोन में 50 हजार रुपए से 5 लाख रुपए तक के कर्ज दिए जाते हैं।
  • तरुण लोन – इसमें 5 लाख रुपए से 10 लाख रुपए तक के लोन दिए जाते हैं।

Fit India Movement क्या है?जानिए

मुद्रा बैंक के नियमों के अनुसार मुद्रा लोन की कुल रकम की लगभग 60% रकम “शिशु मुद्रा लोन” के रूप में देना अनिवार्य है।

इसके अलावा यदि कोई व्यक्ति अपने पहले से चलते व्यापार को और आगे बढ़ाना चाहता है तो वह भी 10 लाख रुपए तक के लोन के लिए आवेदन कर सकता है।

अनुसूचित जाति,जनजाति और महिलाओं है मुख्य फोकस

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) में मुद्रा बैंक द्वारा लोन देने वक्त अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति तथा महिला उद्यमियों को प्राथमिकता पर लोन दिया जाता है।प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की खास बात यह है कि अगर बैंक 5 व्यक्तियों को ऋण देता है तो उसमें से तीन महिलाएं होगी।अगर महिला आवेदनकर्ता हो तो

क्या है जेनेवा समझौता ?

क्या हैं प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के लाभ (Benefits of Pradhan Mantri Mudra Yojana)

  • Pradhan Mantri Mudra Yojana में कोई भी व्यक्ति जो व्यापार करना चाहता है।मुद्रा बैंक से लोन ले सकता है।
  • अगर कोई व्यक्ति पहले से ही कारोबार कर रहा है और वह अपने कारोबार को आगे बढ़ाना चाहता है तो भी इस योजना में मुद्रा बैंक से लोन ले सकता है।
  • छोटे वर्ग के कारोबारियों को वित्तीय सहयोग देकर उन्हें कारोबार के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।
  • सरकार की Pradhan Mantri Mudra Yojana से बड़े पैमाने पर लोग स्वरोजगार की तरफ कदम बढ़ाएंगे
  • छोटे-छोटे उद्योगों से भी कई लोगों के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।तथा कम लागत वाले उद्योगों को स्थापित कर अधिक रोजगार के अवसर पैदा करना
  • प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक देश के हर नागरिक चाहे वह युवा वर्ग/महिलाएं / पिछड़ा वर्ग/अनुसूचित जाति/जनजाति को रोजगार करने के समान अवसर प्रदान कर रहा है।
  • छोटे उद्योगों में बनने वाले सामान का अधिक प्रयोग किया जाएगा जिससे लोगों के बीच स्वदेशी की भावना का विकास होगा।जो भारत के आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण है।
  • अपने देश में ही सामान बनने से देश का पैसा देश में ही रहेगा।स्वरोजगार व स्वदेशी माल को बढ़ावा मिलेगा।जिससे भारत का सकल घरेलू उत्पाद बढेगा । 

क्या है अनुच्छेद 371 जानें  विस्तार से ?

  • प्रतियोगिता की भावना जन्म लेगी जिससे गुणवत्ता पर निश्चित रूप से सुधार होगा।
  • छोटे तथा लघु उद्योगों के विकास की जिम्मेदारी प्रधानमंत्री मुद्रा योजना बैंक की होगी।
  • मुद्रा बैंक देशभर के लगभग 5.77 करोड़ छोटे व्यापारियों की मदद करेगा।
  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत बिना गारंटी का लोन मिलता है।
  • छोटे व्यवसायियों को दिए जाने वाले लोन की गारंटी के लिए मुद्रा बैंक ने क्रेडिट गारंटी योजना बनाई है।
  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) में लोन लेने वाले व्यापारियों को उनके व्यापार संबंधी आवश्यक दिशा निर्देश देकर हर संभव मदद का प्रयास किया जाता है
  • इसके अलावा लेने के लिए कोई भी प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता है।
  • मुद्रा योजना में लोन चुकाने की अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है।

क्यों लगाई जाती है चुनाव में आचार संहिता ?

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) में ब्याज दर

( Pradhan Mantri Mudra Yojana Interest Rate)

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) के तहत कोई निश्चित ब्याज दर नहीं है।न्यूनतम ब्याज दर 12% है।फिर  मुद्रा लोन के लिए अलग-अलग बैंकों ने अलग-अलग ब्याज दर निर्धारित की हैं।लोन देने वक्त कोई भी बैंक ब्याज दर का निर्धारण व्यवसाय तथा उससे जुड़े जोखिम को ध्यान में रखते हुए करता है

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज (Document for Pradhan Mantri Mudra Yojana)

  1. पहचान पत्र (पैन कार्ड, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, पासपोर्ट )।
  2. निवास प्रमाण पत्र (बिजली का बिल ,टेलीफोन का बिल, वोटर आईडी)।
  3. जाति प्रमाण पत्र (केवल पिछड़ी जाति या अनुसूचित जाति वर्ग से संबंधित रखने वाले को)। 
  4. व्यवसाय या उद्योग से संबंधित जरूरी दस्तावेज जो प्रमाणित करते हैं आपके व्यवसाय को जैसे लाइसेंस या पंजीकरण दस्तावेज या अन्य दस्तावेज जो व्यवसाय से संबन्धित हो।
  5. यदि आवेदक अपने पुराने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए ऋण लेना चाहता है तो उसे अपने व्यवसाय की पिछले 2-3 वर्षों की Balance sheet,Income Tax Report,तथा Profit and Loss की एक प्रतिकॉपी बैंक को जमा करनी होगी
  6. आवेदक का फोटोग्राफ
  7. बैंक अकाउंट डिटेल
  8. आवेदक को मुद्रा बैंक से ऋण तभी दिया जाएगा जब वह किसी भी वित्तीय संस्थान/बैंक का का डिफॉल्टर न हो

चंद्रयान-2 मिशन में मुख्य भूमिका निभाने वाले डॉ.के.सिवन कौन हैं जानिए ?

मुद्रा लोन देने के लिए अधिकृत संस्थान

Pradhan Mantri Mudra Yojana  में 27 सरकारी बैंक,17 निजी क्षेत्र के बैंक, 4 सहकारी बैंक, 25 गैर बैंकिंग वित्तीय संस्थान, 31 क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, 36 माइक्रोफाइनेंस संस्थानों को मुद्रा लोन बांटने के लिए सरकार द्वारा अधिकृत किया गया है।

कौन से उद्योग शुरू करने में मिलता है मुद्रा लोन

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) की शुरुआत में कुछ क्षेत्रों में व्यवसाय करने हेतु ऋण दिया जाता था।जैसे सामुदायिक ,सामाजिक एवं वित्तीय सेवाएं, खाने पीने की वस्तुओं का व्यापार, टैक्सटाइल के क्षेत्र में, जमीन और परिवहन के क्षेत्र में।लेकिन समय के साथ-साथ इसमें कई और क्षेत्र जुड़ते चले गए।

जैसे छोटे दुकानदार ,फल/सब्जी विक्रेता,  हेयर कटिंग सैलून/ब्यूटी पार्लर, ट्रांसपोर्ट/ ट्रक ऑपरेटर ,रिपेयर एंड मेंटेनेंस क्षेत्र से जुड़े क्षेत्र के लोग ,मशीन ऑपरेटर, पेंटर ,शिल्पी ,छोटेहोटल एवं रेस्टोरेंट ,लघु उद्योग, खाने पीने की सामग्री बनाने वाले स्वयं सहायता समूह, हांकर, छोटे उद्यमी/ व्यवसाय़ी ,स्वामित्व यासाझेदारी फर्म जो लघु निर्माण इकाइयों के रूप में कार्यरत है।

विश्व पर्यटन दिवस क्यों मनाया जाता है जानिए

कैसे ले सकते हैं आप लोग मुद्रा योजना के तहत लोन (Eligibility for Pradhan Mantri Mudra Yojana)

अगर कोई व्यक्ति प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (Pradhan Mantri Mudra Yojana) का लाभ उठाना चाहता है। तो उसे सबसे पहले अपने नजदीकी बैंक में जाकर इस योजना की जानकारी लेनी होगी।साथ में बैंक से ही आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।फिर उस आवेदन फॉर्म को उस में दिए गए दिशा-निर्देशों के अनुसार सही सही भरकर। और सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ बैंक की उसी शाखा में जमा करना पड़ेगा।

इसके बाद व्यक्ति द्वारा दिए गए सभी आवश्यक दस्तावेजों की जांच पड़ताल के बाद बैंक यह निश्चित करेगा कि उक्त व्यक्ति इस योजना का पात्र है या नहीं।इसके बाद पात्र व्यक्ति को लोन दिया जाएगा।

क्या है प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना ?

डाक विभाग भी करेगा सहयोग

भारतीय डाक विभाग का नेटवर्क पूरे देश में फैला हुआ एक विशाल नेटवर्क है।और डाक विभाग की इसी व्यापकता को देखते हुए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में इसको इस्तेमाल किए जाने की योजना है।ताकि आम आदमी तक जल्द से जल्द मुद्रा योजना का लाभ पहुंच सके।

SBI निभा रहा है सक्रिय भूमिका

वैसे तो प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में सभी बैंकों की भागीदारी समान रूप से तय की गई है।और सभी बैंक इस योजना के तहत लोगों को लोन भी दे रहे हैं।स्टेट बैंक ऑफ इंडिया जो भारत का सबसे बड़ा सरकारी बैंक है इसमें अपनी सक्रिय भूमिका निभा रहा है।आप प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत लोन लेने के लिए यहाँ भी आवेदन कर सकते हैं।

क्यों मनाया जाता है दशहरा ?

हमारे देश का मध्यम वर्ग अक्सर बैंकों से लोन लेने में कतराता है क्योंकि बैंकों में इससे संबंधित कई सारी कागजी कार्रवाई करनी पड़ती हैं।और कई बार कागजी कार्रवाई करने के बावजूद भी लोन नहीं मिल पाता है।और उच्च ब्याज दर पर बाजार से लोन उठाना सबके बस की बात नहीं है।ऐसे लोगों को परेशानी से निकालने में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना सरकार का एक अच्छा प्रयास है।

आधिकारिक वेबपोर्टल 

http://www.mudra.org.in

You are most welcome to share your comments.If you like this post.Then please share it.Thanks for visiting.

यह भी पढ़ें……

क्या है किसान सम्मान निधि योजना?

क्या है प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना?

राष्ट्रीय युद्ध स्मारक की क्या है खास बात?

क्या है कुसुम योजना?

मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा क्या होता है?

सालुमारदा थिमक्का को वृक्ष माता क्यों कहा जाता है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published.